नई दिल्‍ली: नए साल पर हर कोई कुछ नया करने की सोचता है. ऐसे में कुछ अपनी दिनचर्या को बदलने का संकल्‍प लेते हैं तो कुछ सेहत के प्रति सावधानी बरतने का. चूंकि स्‍वस्‍थ रहना हर कोई चाहता है लेकिन चाहकर भी स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति सचेत नहीं हो पाता. कुछ लोग न चाहते हुए भी ऐसी आदत डाल लेते हैं जिन्‍हें वो चाहकर भी छुड़ा नहीं पाते और वो आदत उनकी सेहत को नुकसान पहुंचाती रहती है.

Happy New Year 2019: नए साल पर जा रहे हैं घूमने तो करें ये 10 काम, यात्रा होगी शुभ

कई आदतें ऐसी हैं जो कि हमारी सेहत के लिए बहुत ज्‍यादा हानिकारक होती हैं. जब हम अपनी आदतों पर गौर करते हैं तो पता चलता है कि उसके चलते उनकी जिंदगी कितनी बदल गई हैं, क्‍योंकि कुछ आदतें तो हमें बचपन से ही पड़ जाती हैं, ऐसे में यह जानना जरूरी है कि कब, कहां और कैसे हम इन आदतों के शि‍कार बने. साथ ही इसे बदलने के लिए अब क्‍या करें. तो आइये जानते हैं उन आदतों के बारे में जो जीवन में शौक के तौर पर आई और अब शॉक दे रही हैं:-

  • चॉकलेट-बिस्किट
    हमारी बुरी आदतों की शुरुआत बचपन से होती है, वो भी चॉकलेट और बिस्किट के रूप में. इन दोनों चीजों को ज्‍यादा खाने से छोटी उम्र में ही दांत खराब होने लगते हैं, साथ ही भोजन करने का भी मन नहीं करता. ऐसे में बच्‍चे जिद्दी व कमजोर हो जाते हैं. इसीलिए हमें बच्चों की इन आदतों पर शुरू से ही ध्यान देना चाहिए. साथ ही जब वो किसी परीक्षा में सफल हों या कोई अच्‍छा काम करें तो उन्‍हें प्रोत्‍साहित करने के लिए ही चॉकलेट दें, न कि जब वे मांग करें, उन्‍हें दिला दिया. ऐसा करने से बचे.

New Year Resolutions 2019: नए साल में रहें सेहतमंद, ये करें और इनसे करें परहेज

  • पिज्‍जा-बर्गर और कोकाकोला-पेप्‍सी
    आजकल बच्चों से लेकर बड़ों व स्कूल-कॉलेज स्टूडेंट्स तक में पिज्जा-बर्गर खाने का क्रेज तेजी से बढ़ता जा रहा है. लेकिन यह क्रेज एक ऐसे शौक में तब्दील हो जाता है, जिसकी आगे चलकर हमें आदत हो जाती है. कभी कभार या कुछ महीनों में पिज्जा और बर्गर खाना ठीक है, लेकिन आए दिन इनका सेवन हमारे शरीर और पाचन तंत्र के लिए बेहद हानिकारक है. तो नए साल पर पिज्‍जा-बर्गर को आए दिन खाने से तौबा करें. इसके अलावा अक्‍सर लोग पि‍ज्जा या बर्गर खाने के साथ ही पानी की जगह कोका-कोला या पेप्सी जैसे पेय पदार्थों को लेते हैं, जो कि हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही हानिकारक होता है. इसके चलते जहां कुछ लोग मोटापे का शिकार होते हैं, वहीं कुछ लोग पेट की बीमारियों से परेशान होते हैं.

Tips: हेल्‍दी सेक्‍स लाइफ चाहते हैं तो इन चीजों को आज ही करें दुरुस्‍त…

  • धूम्रपान
    स्‍मोकिंग एक ऐसी बुरी आदत है. इससे जितना बचा जाए उतना ही अच्‍छा होता है. कहा जाता है कि जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, शौक और आदतों में भी बदलाव आता है. ऐसे में कई बार लोग गलत संगत या किसी अन्‍य कारणों से सिगरेट, शराब, पान, गुटका आदि के शुरूआती करते हैं, जो कि पहले शौक के रूप में होता है और आगे चलकर यह आदत में बदल जाता है. ऐसे में नए साल में एक संकल्‍प लें कि ऐसी किसी आदत को शौक के रूप में शुरुआत नहीं करेंगे.

Tips: सर्दियों में दूध के साथ छुहारे लेने के फायदे, दूर हो जाएगी हर तरह की कमजोरी

  • बाम या विक्स का प्रयोग
    आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हर कोई किसी न किसी टेंशन या अन्‍य बातों को सोचता रहता है, जिसके चलते सरदर्द या कुछ अन्‍य समस्‍याएं हो जाती हैं. ऐस में अक्‍सर लोग बिना सर्दी या सरदर्द के बाम या विक्स का प्रयोग करते हैं. कुछ लोगों को प्रतिदिन सोने से पहले सर पर बाम लगाने की आदत होती है. इसके पीछे उनका तर्क होता है, कि ऐसा करने से नींद अच्छी आती है. लेकिन असल में यह आदत आपकी लत है, जो आपको नींद लेने के लिए बाम या विक्स पर निर्भर बना रही है. तो नए साल पर इन आदतों से बचने के लिए तैयार हो जाएं

New Year 2019 में ऐसा करने से छूट सकती है स्मोकिंग की लत

  • चाय या कॉफी
    चाय या कॉफी भी ज्‍यादा पीना एक बुरी आदत हैं. बहुत अधिक थक जाने पर या अच्छे मौसम में चाय या कॉफी पीना अलग बात है, लेकिन यदि आप अपने शौक के चलते इसका अधिक सेवन करते हैं, तो यकीन मानिए, यह शौक आपके लिए घातक साबित हो सकता है. डाक्‍टरों का कहना है कि चाय या कॉफी का अधिक सेवन से आपकी भूख मर जाती है और हाजमा भी खराब हो जाता है. इसके अलावा चाय और कॉफी से आपको डायबिटिज औश्र पेट संबं‍धी बीमारियां हो जाती हैं, जिसका पता हमें बाद में लगता है. ऐसे में नए साल की शुरुआत में इन सब से तौबा करें.

ड्रिंक करने वालों का बुढ़ापे में भी जवां रहता है दिल, …तो थोड़ी-थोड़ी पीने में बुराई नहीं

  • अचार-मसाले
    अक्‍सर लोग भोजन के साथ सलाद का सेवन करते हैं जो कि सेहत के लिए फायदेमंद होता है, वहीं कुछ लोग सलाद की जगह अचार खाने पर ज्‍यादा जोर देते हैं, जो कि आगे चलकर हमारे लिए महंगा साबित हो सकता है. अचार जैसी चीजें केवल तब उपयोग होनी चाहिए जब भोजन का स्वाद बढ़ाना हो, या भोजन अरूचिकर लग रहा हो. न कि हर मौसम में प्रतिदिन इसे खाना, अम्लता को बढ़ाता है. जो अचार बाजार से खरीदे गए होते हैं, उनमें सिरका, साइटिक एसिड आदि मिला होता है जि‍नका अधि‍क सेवन बेहद नुकसान दायक हो सकता है.

Tips: हेल्‍दी सेक्‍स लाइफ चाहते हैं तो इन चीजों को आज ही करें दुरुस्‍त…

  • दिनभर न खाएं सौंफ
    सौंफ ऐसी चीज है जिसके कई फायदें हैं और यह लोगों को काफी पसंद भी होता है. क्‍योंकि इसका स्‍वाद भी अच्‍छा होता है, लेकिन यदि आपको दिनभर सौंफ खाने की आदत है, तो यह आदत आयुर्वेद के अनुसार आपको बार-बार पेशाब आने की समस्या पैदा कर सकती है. ऐसे में नए साल के आगमन पर इन आदतों से आप तौबा करें और बेहतर जीवन जीएं.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.