Happy New Year 2020: साल 2020 शुरू होने वाला है. हर साल की तरह पुराने साल का अंतिम दिन 31 दिसंबर 2019 को और साल का पहला दिन 1 जनवरी 2020 को होगा.

लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि आखिर 12 महीनों में जनवरी महीने में ही क्यों ‘नया साल’ मनाया जाता है. और क्यों ये साल का पहला महीना है. हम बताते हैं.

Happy New Year 2020: इन जगहों पर मनाएं न्‍यू ईयर का शानदार जश्‍न, करें Party Hard

ग्रिगोरियन कैलेंडर
दरअसल नया साल मनाने की ये परंपरा ग्रिगोरियन कैलेंडर के नाम से है. इसकी शुरूआत 15 अक्टूबर 1582 में हुई. इस कैलेंडर की शुरुआत ईसाइयों ने क्रिसमस की वजह से की थी.

इस कैलेंडर के आने से पहले रूस का जूलियन कैलेंडर प्रचलन में था. इस कैलेंडर में 10 महीने हुआ करते थे. इस कैलेंडर में क्रिसमस की तारीख एक ही दिन नहीं आती थी. यानी साल दर साल बदलती रहती थी.

तब, अमेरिका के नेपल्स के फिजीशियन एलॉयसिस लिलिअस ने एक नया कैलेंडर प्रस्तावित किया. इस कैलेंडर में पहला दिन 1 जनवरी को होता था. तब से यही कैलेंडर पूरी दुनिया में प्रचलन में आ गया. इसलिए इसी कैलेंडर के हिसाब से नया साल 1 जनवरी को मनाया जाने लगा.

New Year Time
भारतीय समय के मुताबिक, हमारे देश में तो नए साल का जश्न रात 12 बजे से शुरू होता है, लेकिन दुनिया के कई स्थान ऐसे है जहां रात के 12 अपने यहां से पहले बजेगा और वहां नए साल का जश्न हमारे देश की समय से कई घंटे पहले शुरू हो जाएगा. यह सबकुछ स्थानीय समय पर निर्भर होता है.

लाइफस्‍टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.