नई दिल्ली: सर्दियों का मौसम शुरू हो गया है इस मौसम में सेहत का ख्याल रखना काफी जरूरी होता है, क्योंकि सर्दियों के मौसम में बीमार होने के चांसेस कई गुना बढ़ जाते हैं. सर्दियों में इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग रखने के लिए लोग कई तरह की चीजों का सेवन करते हैं. ऐसे में मौसम में हमें कई तरह की पौष्टिक चीजों का सेवन करने की सलाह दी जाती है. ऐसे ही एक पौष्टिक चीज के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं. जी हां, हम बात कर रहे हैं गुड और चना की. गुड़ और भुना चना ऐसा ही फूड का सही मिश्रण है. ये कई पुरानी बीमारियों को बढ़ने से रोकने के अलावा इम्यूनिटी बढ़ा सकता है. आइए जानते हैं इनसे मिलने वाले फायदों के बारे में-Also Read - Health Benefits Of Rajma: डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद है राजमा, पढें र‍िपोर्ट

– गुड़ और भुना चना को आप एक साथ या तो सुबह में खा सकते हैं या स्नैक के तौर पर शाम में इस्तेमाल कर सकते हैं. गुड़ और चना दो तरीकों से खाया जा सकता है. चना प्रोटीन का खजाना माना जाता है और गुड़ से एंटी ऑक्सीडेंट्स काफी मिलता है. इसके अलावा, गुड़ में जिंक, सेलेनियम और चना में मिनरल जैसे बी6, फोलेट, मैग्नीज, फॉसफोरस, आयरन, कॉपर, थायमिन, नियासिन और राइबोफ्लेविन पाया जाता है. Also Read - Health Tips: Covid-19 से लड़ने के लिए Immunity बढ़ाना है बेहद ज़रूरी, इन 3 Step Mantra से करें अपनी इम्युनिटी बूस्ट

– हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए भी रोजाना एक मुट्ठी चना और गुड़ का सेवन करना चाहिए. 40 साल की उम्र के बाद शरीर में हड्डियां कमजोर होने लगती है और इनका क्षरण होना शुरू हो जाता है. Also Read - Tips: 40 की उम्र के बाद भी रहेंगे एकदम फिट, बस लाइफस्टाइल में कर लें ये बदलाव

– लंबे समय तक गुड़-चना दिल को सेहतमंद रखता है. गुड़ चना में भरपूर मात्रा में पोटेशियम पाया जाता है, जो हार्ट अटैक के खतरे को रोकता है. इसके अलावा गुड़-चना शरीर में बढ़ते वजन को भी नियंत्रित करके रखता है.

– गुड़-चना यदि साथ में खाया जाता है तो एनीमिया रोग से बचा जा सकता है. महिलाओं में अक्सर हीमोग्लोबिन की कमी पाई जाती है. मासिक माहवारी के चलते महिलाओं में तो यह एक आम समस्या है.

– अधिकांश लोगों को कब्ज, एसिडिटी और गैस जैसी पेट से जुड़ी परेशानियां होती हैं. पेट से जुड़ी तमाम परेशानियों में यदि रोज गुड़-चना खाना जाए तो इन तमाम समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है.