लंदन: यदि आप रात में भरपेट खाना करने के बजाए इसे हल्का करें और सुबह हल्का नाश्ता करने के बजाए अगर इसे भरपेट करें, तो आप वजन कम करने के साथ-साथ हाई ब्लड शुगर को भी नियंत्रित कर सकते हैं. एक नए शोध में यह बात सामने आई है. जर्मनी स्थित लुबेक विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं द्वारा किए गए अध्ययन में पाया गया कि रात्रि के स्थान पर सुबह शरीर खाना अच्छे से पचाने में मदद करता है. यह शोध द जर्नल ऑफ क्लिनिकल एंडोक्रिनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म में प्रकाशित हुआ है. Also Read - 10 साल तक चले शोध में खानपान को लेकर बड़े खुलासे, आप भी जानें क्‍या खाएं क्‍या नहीं...

शोधकर्ताओं के अनुसार, जब हम एब्जॉर्पशन, डाइजेशन, ट्रांस्पोट और पोषक तत्वों के भंडारण के लिए भोजन पचाते हैं तब हमारा शरीर ऊर्जा का विस्तार करता है. डाइट-इंड्यूस्ड थर्मोजेनेसिस (डीआईटी) के रूप में चर्चित इस प्रक्रिया में इस बात का माप होता है कि हमारा चयापचय कितनी अच्छी तरह काम कर रहा है और कैसे यह भोजन के आधार पर भिन्न हो सकता है. Also Read - Junk Food Side Effects: पिज्‍जा, बर्गर, मोमोज खाने से अंधा हो गया लड़का, क्‍या बच्‍चों के लिए जहर है जंक फूड?

अच्छा नाश्ता जरूरी
लुबेक विश्वविद्यालय की कॉरेस्पोंडेंस लेखक जूलियन रिचटर ने कहा कि हमारे परिणामों से पता चलता है कि नाश्ते में खाया जाने वाला भोजन, इसमें मौजूद कैलोरी की मात्रा की परवाह किए बिना, डिनर में किए गए भोजन की तुलना में दो बार उच्च आहार-प्रेरित थर्मोजेनेसिस बनाता है. उन्होंने कहा कि इस शोध से अच्छे से नाश्ता करने के महत्व का पता चलता है. Also Read - वजन और हाई ब्लड शुगर को करना चाहते हैं कंट्रोल, यह तरीका आपके लिए साबित हो सकता है कारगर