Unlock 4.0: देश में जारी कोरोना संकट के बीच 1 सितंबर से अनलॉक 4.0 (Unlock 4.0) की शुरुआत हो गई है. कोरोना वायरस महमारी के प्रसार को कम करने के लिए बीते मार्च महीने में लॉकडाउन की घोषणा की गई थी. इसके बाद चरणबद्ध तरीके से Unlock के माध्यम से देश को एक बार फिर पटरी पर लाने की कवायद जारी है. केंद्र सरकार ने Unlock 4.0 की गाइडलाइंस जारी करते हुए राज्यों को यह निर्देश दिया था कि वह अपने हिसाब से लॉकडाउन की घोषणा नहीं करें और अंतरराज्यीय आवागमन पर रोक नहीं लगाए. अब पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश ने टूरिस्टों को बिना ई-पास के अंतर-राज्य आने जाने की अनुमति दे दी है. अब बाहर के राज्यों के पर्यटक बिना ई पास के शिमला, मनाली समेत राज्य के तमाम पर्यटन स्थल पर आ जा सकेंगे. Also Read - हिमाचल प्रदेश के CM जयराम ठाकुर हुए कोरोना पॉजिटिव, खुद Tweet कर दी जानकारी

हिमाचल प्रदेश सरकार (Himachal Pradesh Government) द्वारा ई-पास (E-pass) के बिना भी अंतरराज्यीय आवागमन की अनुमति देने के साथ ही पर्यटकों का आना फिर से शुरू हो गया, जो कोरोना वायरस के चलते पिछले 6 महीने से ज्यादा समय से बंद था. खासकर बिना ई-पास के ट्रैवलिंग की अनुमति मिलने से हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला (Shimla) पर्यटकों से गुलजार हो गया है.

न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए एक पर्यटक ने बताया कि लॉकडाउन के कारण हम लगभग 6 महीने के लिए घर पर थे. बीते 6 महीने से घुमना नहीं हो रहा था. अब यहां आकर अच्छा लग लहा है. हम कोरोना वायरस से बचने के लिए सभी ऐहतियाती उपाय कर रहे हैं.

बता दें कि शनिवार को खबर सामने आई थी कि हिमाचल प्रदेश के बॉर्डर खुलते ही सुनसान पड़ी पर्यटन नगरी मनाली में भी रौनक लौट आई है. प्रदेश के बॉर्डर खुलते ही मनाली के मॉल रोड पर भी पर्यटक चहलकदमी करते हुए नजर आ रह हैं. पर्यटकों के लौटने से कारोबारियों के चेहरे भी खिल गए हैं.