नई दिल्ली: मुंह में छाले पड़ना काफी आम बात है लेकिन यह बहुत ही तकलीफदेह होता है. मुंह में छाले पड़ने से खाने पीने में काफी दिक्कत होती है. मुंह में छाले होने के कई कारण हो सकते हैं. कई बार ये पेट साफ न होने की वजह से, हॉर्मोनल संतुलन बिगड़ने की वजह से, चोट लग जाने से, पीरियड्स की वजह से या फिर कॉस्मेटिक सर्जरी की वजह से यह निकल आते हैं. वैसे तो बाजार में इसे ठीक करने के लिए कई दवाइयां उपलब्ध हैं. लेकिन कई बार दवाई लगाने से इसका उल्टा असर पड़ जाता है. ऐसे में आज हम आपको इस छालों को दूर करने के कुछ घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं. जिनसे आपके यह छाले एकदम ठीक हो जाएंगे और इससे कोई नुकसान भी नहीं होगा. आइए जानते हैं ये घरेलू उपाय Also Read - Throat Pain And Soreness: बदलते मौसम में गले के दर्द और खराश को ऐसे करें दूर, इन टिप्स की लें मदद

टी ट्री ऑयल- टी ट्री ऑयल में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं. छालों के ऊपर इन्हें लगाने से बहुत जल्दी फायदा होता है. एक दिन में तीन से चार बार इसे प्रभावित जगह पर लगाने से आराम होगा. Also Read - Parenting Tips: दूध पीने के बाद उल्टी कर देता है आपका बच्चा? यहां जानें कारण और घरेलू उपाय

पानी पीएं- मुंह के छाले या जुबान पर छाले होने के लिए शरीर में बढ़ने वाली गर्मी जिम्मेदार होती है. ऐसे में कोशिश करें कि दिनभर में हर थोड़ी-थोड़ी देर में पानी पीते रहें, ताकि शरीर का तापमान नियंत्रित रहे. Also Read - Home Remedies: फटी एड़ियां बन रही है आपकी शर्म की वजह तो अपनाएं ये आसान तरीके

शहद- शहद का इस्तेमाल अगर घरेलू उपचार के रूप में किया जाए तो छालों की समस्या को ठीक कर सकता है. इसके लिए आप शायद को छाले वाली जगह पर लगाकर 3-4 मिनट के लिए छोड़ सकते हैं.

हल्दी- घरेलू उपचार के रूप में इसके इस्तेमाल से भी लाभ मिलता है. मुंह के छालों की समस्या को ठीक करने के लिए एक गिलास पानी में आधा चम्मच हल्दी को अच्छी तरह उबाल लें और उसके बाद इस पानी से कुल्ला करें.

लहसुन- छालों के इलाज के लिए लहसुन बहुत ही कारगर है. दो से तीन लहसुन की कलियां लेकर उनका एक पेस्ट बना लें. अब इस पेस्ट को प्रभावित जगह पर लगाएं. लगाने के 15 मिनट बाद उसे धो लें.

अंजीर की पत्तियां- अंजीर की पत्तियों का अर्क छालों की समस्या को ठीक करने के लिए प्राचीन नुस्खे के रूप में लंबे समय से प्रयोग किया जा रहा है. अंजीर की पत्तियों को थोड़े और उसके बाद पत्तियों के निचले हिस्से से निकलने वाले अर्क को, मुंह में निकले हुए छालों वाली जगह पर लगाएं. इसके बाद आपके मुंह से काफी मात्रा में लार निकलेगी उसे बाहर गिरने दें. करीब 5 मिनट के बाद पानी से कुल्ला कर लें.