अक्सर हम नहाते हुए जिस बॉडी पार्ट को इग्नोर कर देते हैं, वो होते हैं कान. कान की सफाई उतनी ही जरूरी है जितनी की बाकी बॉडी पार्ट्स की.

कई बार ऐसा होता है कि कान की ठीक से सफाई ना होने के कारण उसमें काफी वैक्स जमा हो जाता है. इसे समय पर साफ ना किया जाए तो ये परेशानी का सबब भी बन सकता है.

फिर डॉक्टर के पास जाकर ही सफाई करानी होती है. इससे बेहतर है कि आप ये नौबत ही ना आने दें. समय पर सफाई करें.

क्या बच्चों को हो सकती है डायबिटीज? दिल्ली में लाखों बच्चे बीमार, डॉक्टर्स से जानें हर सवाल का जवाब…

अब आप सोच रहे होंगे कि वो कौन से तरीके हैं, जिससे कान की गंदगी भी साफ हो जाए और जो सेफ भी हों. हम बताते हैं.

chinese kids new ears

– कान में गुनगुना सरसों का तेल डालें. इससे खोंट नरम हो जाती है. फिर आसानी से निकाल सकते हैं. अगर सरसों का तेल नहीं डालना है तो आप बादाम का एक या दो बूंद तेल भी डाल सकते हैं.

– अगर आप ये इस्तेमाल नहीं करना चाहते हैं तो बेबी ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं.

– ऑलिव ऑयल की कुछ बूंदों को कान में डालें. रात को सोने से पहले ये काम करें. तीन से चार दिन तक रोज ऐसा करें. फिर ईयर बड की सहायता से कान साफ कर लें.

– कुछ लोग तुलसी के पत्‍ती का रस निकालकर भी कान में डालते हैं. अगर ऐसा कर रहे हैं तो याद रहे कि कान में 5 से 6 बूंद से अधिक ना जाए. नारियल तेल में तुलसी की पत्‍तियों को उबालकर ठंडा कर लें. इसे भी कान में डाल सकते हैं.

मौत के बाद भी बना रहता है जीवनसाथी का साथ! शोध में चौंकाने वाले नतीजे…

तरीका चाहे जो भी हो पर कान की सफाई में खास सावधानी बरतने की जरूरत होती है. खासकर बच्चों के कान को साफ करते हुए. कान में कभी भी नुकीली चीज नहीं डालनी चाहिए. कान की सफाई करते हुए दर्द तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.