वायु प्रदूषण से लोग परेशान हैं. बच्चों को ही नहीं, बुजुर्गों को भी सांस लेने में काफी परेशानी हो रही है. कोई मास्क खरीद रहा है तो कोई एयर प्यूरिफायर.

आपने पढ़ा या सुना भी होगा कि दिल्ली में सांस लेने मतलब एक दिन में 50 सिगरेटों का धुआं शरीर के अंदर लेने जैसा हो गया है. ऐसे हालात में जरूरी है कि इस घने धुएं के कंबल में घिरे लोगों में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता फैलाई जाए.

काम की बात: Salman Khan ने चलाई साइकिल, जानें रोज चलाने के फायदे, दिल रहेगा बाग-बाग…

इसलिए आज हम बताने जा रहे हैं ऐसे घरेलू नुस्खे, जो प्रदूषण की परेशानी को खत्म कर देंगे.

स्टे-हैप्पी फार्मेसी के प्रबंध निदेशक डॉ. सुजीत पॉल ने ये उपाय बताए हैं. जानें इनके बारे में-

Vegetarian Diet May Help Lower Your Cholesterol: 5 Tips to Start Plant-Based Vegetarian Diet

– नाक में घी के 2-4 बूंद डालने से दूषित हवा साफ होकर फेफड़े में जाती है. बेहतर परिणामों के लिए दिन में दो बार इस प्रक्रिया को दोहराएं.

– सीसा और मरकरी वायु प्रदूषण के एहम घटक माने जाते हैं. घी, सीसा और मरकरी के हानिकारक प्रभाव को कम करने में भी मदद करता है.

– संतुलित भोजन लें, जिसमें फल और सब्जी शामिल हों. प्रदूषण के दुष्प्रभावों से निपटने के लिए गर्म और घर में बना भोजन ही लें.

– गुड़ का सेवन भी हमारे शरीर से दूषित पदार्थो को दूर करने में मदद करेगा.

– भोजन में लहसुन और प्याज का इस्तेमाल बढ़ाएं. प्याज और लहसुन पारंपरिक दवाओं के रूप में भी उपयोग किए जाते हैं. ये अस्थमा की रोकथाम और उपचार सहित विभिन्न स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं.

– भाप की श्वास लें. इससे शरीर को हानिकारक पदार्थो को हटाने में मदद मिलती है.

– तुलसी और अदरक की चाय लें. एक कप तुलसी और अदरक की चाय इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करती है और रेस्पिरेटरी सिस्टम से प्रदूषण की सफाई करने में भी उपयोगी होगी.

इनके अलावा, इस दौरान किसी भी प्रकार के स्प्रे और रूम फ्रेशनर का उपयोग करने से बचना चाहिए, क्योंकि ये वायु प्रदूषण के घटक हैं. घर के अंदर पौधों का उपयोग करें जो हवा को शुद्ध करने में मदद करेंगे.
(एजेंसी से इनपुट)

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.