नई दिल्ली: महिला दिवस आने को है और सोशल मीडिया के इस युग में अपनी रिश्तेदारों, सहेलियों और सहयोगी महिलाओं को शुभकामनाओं वाले संदेश भेजने के साथ ही कार्ड, चॉकलेट, फूल और अन्य उपहार देने की तैयारियां जोरों पर हैं. हालांकि इस बात से बहुत ज्यादा लोग वाकिफ नहीं हैं कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस आखिर क्यों और कब से मनाया जाता है.

International Women’s Day 2019: कामकाजी महिलाएं कई तरीके से बचा सकती हैं टैक्स, जानें यहां

दरअसल साल 1908 में एक महिला मजदूर आंदोलन की वजह से महिला दिवस मनाने की परंपरा की शुरूआत हुई. इस दिन 15 हज़ार महिलाओं ने नौकरी के घंटे कम करने, बेहतर वेतन और कुछ अन्य अधिकारों की मांग को लेकर न्यूयार्क शहर में प्रदर्शन किया. एक साल बाद सोशलिस्ट पार्टी ऑफ़ अमेरिका ने इस दिन को पहला राष्ट्रीय महिला दिवस घोषित किया.

International Women’s Day 2019: महिलाओं में कानून के प्रति सजगता की कमी, जानना होगा कानूनी दांवपेच

ऐसे मनाया जाने लगा अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस
1910 में कोपेनहेगन में कामकाजी महिलाओं का एक अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन हुआ, जिसमें इस दिन को अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के तौर पर मनाने का सुझाव दिया गया और धीरे धीरे यह दिन दुनिया भर में अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में लोकप्रिय होने लगा. इस दिन को अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मान्यता 1975 में मिली, जब संयुक्त राष्ट्र ने इसे एक थीम के साथ मनाने की शुरूआत की.

International Women’s Day 2019: ये हैं वो Gifts, जो हर महिला को पसंद आते हैं…