नई दिल्ली: प्रेग्‍नेंसी हर महिला के लिए एक साइफ चेंजिंग मौका होती है. इस दौरान महिलाओं में कई तरह के बदलाव देखने को मिलते हैं. इस दौरान महिलाओं को अपना खास ख्याल रखना होता है. गर्भवस्था में महिलाओं को कई तरह की सलाह दी जाती है कि उन्हें क्या करना चाहिए और क्या नहीं. गर्भावस्था अपने साथ कई तरह के शारीरिक बदलावों और समस्याओं का अंदेशा लेकर भी आती है. अगर प्रेग्नेंसी के पहले महीने से ही सभी ज़रूरी तैयारियां शुरू कर दी जाएं, तो गर्भावस्था से जुड़ी तमाम परेशानियों को काफ़ी हद तक कम किया जा सकता है. दरअसल, प्रेग्‍नेंसी के पहले महीने में खासतौर पर पहली बार मां बनने वाली महिलाओं के पास जानकारी का अभाव होता है. कई बार तो उन्हें अपने प्रेग्नेंट होने तक की सही जानकारी नहीं होती है. तो अगर आप भी पहली बार मां बन रही हैं तो हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने वाले हैं जो आपके लिए काफी जरूरी है. आइए जानते हैं इनके बारे में – Also Read - प्रेग्नेंसी के दौरान हो रही है आलू खाने की क्रेविंग तो पहले जान ले ये बातें, हो सकता है खतरनाक

गर्भवती महिलाओं के लिए धूप के फायदे और नुकसान Also Read - Exercise During Pregnancy: प्रेग्नेंसी में करें ये एक्सरसाइज, डिलीवरी के दौरान नहीं होगी कोई दिक्कत

वैसे तो धूप विटामिन डी का सबसे आसान माध्यम है. शरीर में विटामिन डी की कमी होने पर धूप लेने की सलाह दी जाती है. प्रेगनेंट महिलाओं के लिए भी धूप जरूरी होती है और इससे भ्रण की हड्डियों को बनने में मदद मिलती है. ये मां और बच्‍चे की इम्‍यूनिटी को भी मजबूत करती है. लेकिन वहीं, दूसरी ओर गर्भावस्था में महिलाओं के शरीर में हार्मोनल बदलाव होते रहते हैं जिससे शरीर असंतुलित हो जाता है. जिसके कारण गर्भवती महिला की त्वचा काफी संवेदनशील हो जाती है. ऐसे में गर्भवती महिला को ज्यादा देर के लिए धूप में नहीं रहना चाहिए. क्योंकि इससे आपके होने वाले बच्चे को खतरा हो सकता है. आइए जानते हैं उन खतरों के बारे में- Also Read - Benefits Of Ginger During Pregnancy: प्रेग्नेंसी में अदरक खाना होता है सेफ? यहां जानें हर सवाल का जवाब

– प्रेगनेंट महिलाए लंबे समय तक सूर्य की किरणों के संपर्क में रहती हैं तो उन्हें स्किन कैंसर हो सकता है.

– प्रेग्‍नेंसी में बॉडी बहुत अधिक मात्रा में मेलानिन प्रोड्यूस करती हैं. जिसके कारण यदि आप घर से बाहर धूप में निकलती हैं तो आपकी त्वचा की रंगत फीकी पड़ जाती है.

– कुछ अध्‍ययनों में ये बात सामने आई है कि बहुत ज्‍यादा धूप में रहने से फोलेट के स्‍तर में कमी आ सकती है. ऐसा होने पर मिसकैरेज या शिशु में न्‍यूरल ट्यूब डिफेक्‍ट हो सकता है.