Jeera Doodh To Increase Breast Milk:  केवल प्रेगनेंसी में ही नहीं, डिलीवरी के बाद भी महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है. अक्सर डिलीवरी के बाद महिलाओं की समस्या रहती है ब्रेस्ट में दूध कम आना.Also Read - Real And Fake Jeera: कहीं आप भी तो नहीं कर रहे हैं फूल झाड़ू से बने नकली जीरे का सेवन, इन तरीकों से करें पहचान

मां का दूध बच्चे के विकास के लिए काफी जरूरी होता है. लेकिन ब्रेस्ट में दूध कम आने के कारण बच्चे को सभी जरूरी पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं. कई बार सही डाइट ना लेने के कारण भी महिलाओं को ब्रेस्ट में कम दूध आने की समस्या से गुजरना पड़ता है. ऐसे में आप हम आपको कुछ घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं जिससे आपकी यह समस्या दूर हो सकती है. आइए जानते हैं- Also Read - Roasted Cumin Seed And Curd: रोजाना करें दही और भूने हुए जीरे का सेवन, कुछ ही दिनों दिखने लगेंगे फायदे

ब्रेस्ट के दूध को बढ़ाने के लिए जीरे का दूध (Jeera Doodh Pine Ke Fayde) एक अच्छा उपाय है. जीरे में कई ऐसे गुण पाए जाते हैं जो ब्रेस्ट में दूध बनने की प्रक्रिया को बढ़ाता है. Also Read - Tips: जीरे का पानी पीकर पाएं 26 इंच कमर, कुछ और करने की जरूरत ही नहीं...

इस तरह बनाएं जीरे का दूध

– इसे बनाने के लिए सबसे पहले एक तवा लें और उसे गैस पर गर्म होने के लिए रख दें.

– अब तवे में एक चम्मच जीरे के साथ 5 से 6ू काली मिर्च को भी सेंक लें.

– इसके बाद जीरे और काली मिर्च को तवे से निकाल लें.

– इन दोनों चीजों को पीसकर पाउडर बना लें.

– एक गिलास गर्म दूध लें और उसमें दो चम्‍मच जीरा पाउडर डालकर मिक्‍स कर लें. इसमें आप चीनी भी डाल सकती हैं.

जीरा वाला दूध पीने के फायदे

– जीरा दूध पीने से नई मां के ब्रेस्ट में दूध बनने लगता है. इससे दूध कम आने की समस्या दूध होती है. इसे पीने से हार्मोन्स भी संतुलित रहते हैं.

– जीरा दूध पीने से डिलीवरी के बाद होने वाली कब्ज की समस्या दूर हो जाती है. इसके साथ ही पाचन शक्ति भी बढ़ती है.

– डिलीवरी के दौरान महिलाओं का खून बहुत अधिक बह जाता है. जिस कारण शरीर में खून की कमी होती है. जीरा मिल्क पीने से इसमें मौजूद आयरन शरीर में खून की कमी को पूरा करता है.

– यदि आप जीरा वाला दूध पीती हैं तो इससे शिशु को काफी फायदा मिलता है. इससे शिशु को पाचन और गैस्ट्रिक परेशानियां नहीं होती हैं.