शि‍मला मिर्च खाने के नाम पर मुंह बनाते हैं तो अपनी आदत सुधार लें, क्योंकि इसके खाने से आपके कई सारे लाभ हो सकते हैं जिससे शायद आप अनजान हैं. लाल, हरे और पीले रंग में मिलने वाली शिमला मिर्च सेहत के लिहाज से बहुत फायदेमंद है. इसमें विटमिन सी, विटमिन ए, विटमिन के, फाइबर और बीटा-कैरोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है.

शिमला मिर्च को कई लोग सलाद के रूप में भी खाना पसंद करते है तो वहीं लोग इसे सब्जी और नूडल्स में भी इसका इस्तेमाल करते हैं. शिमला मिर्च में कैलोरी न के बराबर होती है जिससे कोलेस्ट्रॉल बढ़ नहीं पाता है. लेकिन क्या आपको पता है इस सब्जी में कितने विटामिन और मिनरल्स होते हैं जिनके गुण आपके अंदर की बिमारियों को खत्म करने में आपकी मदद कर सकते हैं, तो चलिए जानते हैं क्या हैं इसके लाभ.

1.आंखों के लिए फायदेमंद
शिमला मिर्च में ल्यूटिम और जेक्सैन्थिन कैरोटीनॉ जैसे अच्छे तत्व पाए जाते हैं जो आपकी आंखों के लिए हर तरह से फायदेमंद साबित होते हैं. दरअसल ये आंखों में हुए मोतियाबिंद को भी ठीक करने में आपकी मदद कर सकते हैं. इसलिए आपको शिमला मिर्च का सेवन जरुर करना चाहिए.

2. वजन कम करना
अगर आप वजन कम कर रहे हैं तो ऐसे में शिमला मिर्च को अपनी डाइच में जरुर शामिल करें. आप शिमला मिर्च की सब्जी बनाकर खा सकते हैं या फिर सलाद के तौर पर भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. दरअसल लाल शिमला मिर्च में थर्मोजेनेसिस पाया जाता है जो हमारे शरीर में कैलोरी को बहुत तेजी से बर्न करता है जिससे हमारा वजन कंट्रोल में रहता है.

3. एनीमिया
अगर आपको लग रहा है कि आपके शरीर में एनीमिया की समस्या है तो ऐसे में आप शिमला मिर्च खाए, दरअसल इसमें आयरन और विटामिन होता है जो आंतों के लिए अच्छा माना जाता है. इसलिए अगर आप इसका सेवन करते हैं तो आपके शरीर में आयरन की कमी नहीं होगी और आप एनीमिया जैसी समस्या से दूर रहेंगे,.

4. कैंसर
एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटी इन्फ्लेमेटरी पोषक तत्वों से भरपूर शिमला मिर्च कैंसर में भी लाभ प्रदान करता है। शिमला मिर्च में मौजूद एंजाइम गैस्ट्रिक कैंसर और एसोफैगल कैंसर को रोकने में मदद करते हैं.

5.इम्यून सिस्टम
कोरोना के दौरान लोगों को अपनी इम्यून सिस्टम की मजबूत करना बेहत जरुरी हो गया है, ऐसे में अगर आपको भी अपना इम्यून सिस्टम अच्छा रखना है तो ऐसे में आप शिमला मिर्च का सेवन करें. शिमला मिर्च विटामिन सी से भरपूर होता है और विटामिन सी आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में एक अहम कड़ी होता है.