Life Secrets: हर किसी के जीवन में ऐसी कई बातें होती हैं जो राज होती हैं. यानी जिसे वो अपने दिल में रखता है. कई लोग इन बातों को चुनिंदा लोगों से शेयर भी करते हैं. पर क्‍या अपने किसी राज को किसी से कहना सही है? Also Read - किन जगहों पर इंसान को कभी नहीं रुकना चाहिए?

सवाल ये है कि कौन सी बातों को राज रखना चाहिए. यानी वो बातें जिन्‍हें आपको अपने किसी करीबी से भी शेयर नहीं करना चाहिए. Also Read - ...तो इस वजह से किसी की कड़वी बात चुभ जाती है दिल को, बदला लेने का मन करता है

इस बार में आचार्य चाणक्‍य ने कई बातें कही हैं. चाणक्य नीति के चौदहवें अध्याय के 17 वें श्लोक में इस बारे में बताया गया है. Also Read - 80 तक जीने का ये है फॉमूर्ला, इन 7 टिप्‍स को अपनाना होगा...

इस श्‍लोक में आचार्य चाणक्य ने बताया है उन चीजों के बारे में, जो कभी किसी को नहीं कहनी चाहिए. ये बातें आपके जीवन, व्यवहार और कर्म से जुड़ी होती हैं.

ये है श्‍लोक-

सुसिद्धमौषधं धर्मं गृहच्छिद्रं च मैथुनम् ।
कुभुक्तं कुश्रुतं चैव मतिमान्न प्रकाशयेत् ॥ १४ -१७

इस श्‍लोक के अर्थ में ही उन बातों को बताया गया है जो किसी से साझा नहीं करना चाहिए. आप भी जानें इस श्‍लोक का अर्थ-

अपनी दवाई या औषधियों के बारे में- यानी किसी को ये नहीं बताना चाहिए कि आपको क्‍या बीमारी है और आप कौन सी दवाओं का सेवन कर रहे हैं.

घर का भेद- चाहे आप कितने भी परेशान क्‍यों ना हो, कभी अपने घर का दोष किसी के सामने नहीं कहना चाहिए.

परिवार की बुराई- अपने घर-परिवार वालों की बुराई कभी किसी के सामने नहीं करनी चाहिए. अगर किसी सदस्‍य के भीतर कोई कमी है तो उसे भी किसी से नहीं कहना चाहिए.

संबंधों के बारे में- पति-पत्‍नी के वैवाहिक जीवन से जुड़ी बातों को किसी के सामने नहीं कहना चाहिए.

धन व मंत्र- कभी किसी से धन के बारे में नहीं कहना चाहिए. अगर आप किसी मंत्र का जप करते हैं तो वो भी सबसे शेयर नहीं करना चाहिए.

लाइफस्‍टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.