ये तो आपने कई बार पढ़ा-सुना होगा कि ऑफिस में घंटो सीट पर बैठे रहना नुकसानदायक होता है. इससे स्‍वास्‍थ्‍य पर काफी नकारात्‍मक असर होता है.

पर क्‍या आप जानते हैं कि अगर आप घर पर दिन-रात टीवी देखने, स्मार्टफोन और कंप्यूटर की स्क्रीन से चिपके रहने के चक्‍कर में बैठे रहते हैं तो ये भी काफी घातक होता है.

एक शोध में ऐसे ही कई चौंकाने वाले तथ्‍य सामने आए हैं. ये शोध कुछ माह पहले किया गया था.

शोध किया था अमेरिका स्थित मेयो क्लीनिक ने. इस अध्ययन में पाया गया था कि शारीरिक असक्रियता, धूम्रपान जितनी नुकसानदायक है.

अध्‍ययन के अनुसार, अगर कंधे, पीठ व कमर में दर्द की समस्या से लेकर टाइप-2 डायबिटीज, हृदयरोग तथा कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों से बचना है तो चलने-फिरने और एक्सरसाइज करने का समय बढ़ाएं. इस दौरान दिन भर बैठे या लेटे रहने की आदत याददाश्त और तर्क शक्ति के लिए घातक पाई गई.

शोध में लोगों की बैठने की आदतों से जुड़े ये तथ्‍य पाए गए.
– ज्यादातर युवा औसतन 8 घंटे कुर्सी पर बिताते हैं.
– टीवी या मोबाइल पर वीडियो देखने में 3 घंटे गुजारते हैं.

कैसे बचें 
– अगर आप स्‍वस्‍थ रहना चाहते हैं तो आपको प्रतिदिन 10 हजार कदम चलना जरूरी है.
– हफ्ते में 6 दिन आधा घंटा जरूर व्यायाम करें.

क्‍या करें
शोधकर्ताओं ने कुछ उपाय सुझाते हुए कहा कि ऑफिस में बोतल में पानी भरकर ना रखें. प्यास लगने पर सीट से उठकर बोतल भरें. हर आधे घंटे पर सीट पर खड़े होकर स्ट्रेचिंग करें. सीट पर मुमकिन ना हो वॉशरूम या किसी अन्‍य जगह पर स्‍ट्रेचिंग करें. किसी कोवर्कर से बात करनी हो तो उसकी सीट पर चले जाएं. ब्रेकफास्‍ट व लंच के लिए कैंटीन जाएं. लिफ्ट के बजाय सीढ़ियों का प्रयोग करें.