नई दिल्ली: शुक्रवार और शनिवार की दरमियानी रात को लगने वाला चंद्रग्रहण आम लोग भी आसानी से देख सकते हैं. विशेषज्ञों के अनुसार इसे देखना पूरी तरह सुरक्षित है. इस चंद्रग्रहण को पूरे देश से देखा सकता है बशर्ते बादल न छाए हों, चंद्रग्रहण रात करीब सवा 11 बजे शुरू होगा. इस दौरान सफेद रंग का नजर आने वाला चांद खून जैसे लाल रंग का हो जाएगा. यह इस सदी का सबसे लंबा ब्लड मून होगा और जनवरी में हुए चंद्रग्रहण के मुकाबले 26 मिनट ज्यादा देर तक रहेगा. Also Read - 2021 में चार ग्रहण होंगे, पूरी तरह से ढँक जाएंगे चांद और सूरज, जानें डेट और समय

Also Read - Chandra Grahan 2020 Horoscope: सभी राशियों पर होगा चंद्र ग्रहण का असर, इन्हें रहना होगा संभलकर

Chandra Grahan 27 July 2018: सूतक और ग्रहण के दौरान घर में मंदिरों को रखें ढक कर, याद से करें ये काम… Also Read - Chandra Grahan November 2020: इन राशियों के लिए है अशुभ है चंद्र ग्रहण, इन मंत्रों का जप करें

प्लेनेटरी सोसाइटी ऑफ इंडिया के एन श्री रघुनंदन कुमार के अनुसार टेलीस्कोप से देखने पर नजारा बिल्कुल स्पष्ट दिखेगा. शहरी इलाकों में लोग तीखे प्रकाश वाले इलाकों से दूर हटकर इसे स्पष्ट देख सकते हैं. ग्रामीण क्षेत्रों में प्रदूषण की कमी के चलते इसका नजारा ज्यादा स्पष्ट होगा. चंद्रग्रहण के दौरान लोग बिना किसी डर के खाना-पीना भी कर सकते हैं.

Chandra Grahan 27 July 2018: सूतक और ग्रहण काल में गर्भवती ना छुएं चाकू, गलती से भी ना करें ये काम…

उत्तरी अमेरिका में रहने वाले इसे बिल्कुल नहीं देख पाएंगे. इसकी वजह ये है कि जब उत्तरी अमेरिका में रात होती है और चंद्रमा प्रकट होता है, तब तक चंद्रग्रहण पूरा हो चुका होगा. अगर आप इसे सीधे नहीं देख सकते तो कंप्यूटर स्क्रीन पर जरूर देख सकते हैं. एस्ट्रोनॉट एजुकेशन की वेबसाइट slooh पर इसे लाइव देखा जा सकता है. भारत में रात सवा 11 बजे से चंद्रग्रहण लगना शुरू होगा.