पुरुषों के लिए जल्‍द ही बाजार में गर्भनिरोधक इंजेक्‍शन आ सकता है. इस एक इंजेक्‍शन से 13 साल तक अवांछित गर्भ से छुटकारा मिल जाएगा.

इसका नाम है रिवर्सिबल इनबिशन ऑफ स्पर्म अंडर गाइडेंस यानी RISUG.

खुशहाल जिंदगी के लिए कितना जरूरी है फिजिकल रिलेशनशिप

किसने बनाया
ये इंजेक्‍शन भारतीय वैज्ञानिकों ने डेवलप किया है. ये इंजेक्शन, पुरुषों को नसबंदी से मुक्ति दिला देगा. खास बात ये है कि इंजेक्शन का ट्रायल पूरा हो चुका है. इसकी रिपोर्ट, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च यानी ICMR ने स्वास्थ्य मंत्रालय को सौंप दी है.

क्‍या कह रहे हैं विशेषज्ञ
ICMR के विशेषज्ञ कह रहे हैं कि RISUG गर्भनिरोधक इंजेक्शन है. अब तक पुरुषों को स्पर्म का ट्रांजेक्शन रोकने के लिए गर्भनिरोधक ऑपरेशन कराना होता था, लेकिन इस इंजेक्शन से पुरुषों की यह परेशानी दूर हो जाएगी. एक बार इस इंजेक्शन को लगवाने के बाद यह 13 साल तक काम करेगा.

लड़कों से ज्‍यादा लड़कियों को लगा सोशल मीडिया का चस्‍का, हो रहीं इस बीमारी का शिकार

कैसे करेगा काम
नसबंदी की सर्जरी में जिन दो नसों को काटा जाता है, उन्हीं दो नसों में इस इंजेक्शन को दिया जाएगा. यहीं वो नसें होती हैं जिनमें स्पर्म ट्रैवल करता है. इंजेक्शन देने के बाद स्पर्म टूट जाएगा और गर्भधारण नहीं हो सकेगा. इसके लिए दोनों नसों में 60 एमएल के डोज का एक-एक इंजेक्शन दिया जाएगा.

परीक्षण
डॉक्टरों ने बताया कि इस इंजेक्शन का चूहे, खरगोश और अन्य जानवरों पर ट्रायल किया जा चुका है. जानवरों पर ट्रायल के बाद इंजेक्शन का 303 लोगों पर क्लिनिकल टेस्ट किया गया, जिसमें 97.3 पर्सेंट तक इस इंजेक्शन को एक्टिव पाया गया. यह इंजेक्शन 99.2 पर्सेंट तक प्रेग्नेंसी रोक पाने में कारगर साबित हुआ है. अब सरकार से मंजूरी मिलने की प्रतीक्षा है.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.