नई दिल्ली: कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन का असर धीरे-धीरे अब लोगों की सेहत पर पड़ने लगा है. लॉकडाउन के चलते सभी जिम इन दिनों बंद हैं. ऐसे में जो लोग रोजाना वर्कआउट करते हैं उनके लिए काफी परेशानी होने लगी है. लॉकडाउन में इन दिनों अधिकतर लोग वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं ऐसे में वह काफी लंबे समय तक एक जगह पर ही बैठे हैं. ऐसे में आपकी सेहत पर इसके नकारात्मक प्रभाव पड़ सकते हैं. आपको बता दें कि ऐसे लोगों के लिए हफ्ते में कम से कम ढाई घंटे वर्कआउट करना काफी जरूरी है. Also Read - यूपी: श्रमिक ट्रेनों में भी मौत के मुंह में समा रहे मजदूर, एक ही दिन में तीन ट्रेनों में 6 की मौत

जिन लोगों का अधिकतर काम बैठकर करने वाला हैं. उनकी फिजिकल एक्टिविटी इस लॉकडाउन के समय में काफी काफी कम हो गई है. जो उनकी सेहत के लिए बिल्कुल सही नहीं है. हाल ही हुई एक स्टडी में बताया गया कि, बॉडी को मूव करना काफी महत्वपूर्ण होता है. अगर आप रोजाना वर्कआउट नहीं कर पाते हैं तो जरूरी है कि आप एक दिन छोड़कर वर्कआउट करें इससे आपकी फिटनेस बरकराक रहती है और आप स्वस्थ भी रहेंगे. Also Read - कोरोना: देश में संक्रमितों की संख्या 1.5 लाख के पार, आज भी 6 हज़ार से अधिक केस सामने आए, अब तक 4337 की मौत

ऑस्ट्रेलिया के नेशनल एक्सरसाइज गाइडलाइन्स के अनुसार, 18 से 64 वर्ष की आयु के लोगों को स्वास्थ्य रहने के लिए प्रति सप्ताह कम से कम ढाई घंटे व्यायाम करना चाहिए. इसके अलावा, गाइडलाइन्स में यह भी कहा गया है कि प्रत्येक सप्ताह कम से कम दो दिन मांसपेशियों को मजबूत करने वाली एक्सरसाइज करें ताकि शारीरिक शक्ति में सुधार हो सके. Also Read - बीसीसीआई को भरोसा, भारत से टी20 विश्व कप की मेजबानी छीनकर 'आत्महत्या' नहीं करेगी ICC