नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लंदन के एक कार्यक्रम ‘भारत की बात सब के साथ’ में कहा कि वे पिछले 20 साल से हर दिन एक चीज खा रहे हैं और वह है गालियां. मैं हर दिन एक से दो किलो गालियां खाता हूं. Also Read - Tamil Nadu Election: राहुल ने तमिलनाडु में किया चुनाव अभियान का आगाज, पीएम मोदी पर साधा निशाना

Ten main points of  Prime minister narendra modi westminister hall london bharat ki baat sabke sath Also Read - PM Modi in Kolkata LIVE Updates: कोलकाता में बोले पीएम मोदी- मैं आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस के चरणों में शीश झुकाता हूं

मोदी ने इन गालियों को ही अपने फिट रहने का राज बताया. पर क्‍या आप जानते हैं कि असल में मोदी के फिट रहने का राज क्‍या है. वो ऐसा क्‍या खाते हैं जो इतने उर्जावान हैं. Also Read - ब्राजील के राष्ट्रपति ने पीएम मोदी को वैक्सीन के लिए कहा धन्यवाद, शेयर की भगवान हनुमान की यह खास तस्वीर

दरअसल, गुजरात विधानसभा चुनावों में ये बात उठी थी कि मोदी महंगे मशरूम खाते हैं. खुद मोदी ने भी बतौर गुजरात के मुख्‍यमंत्री कहा था कि वे हिमाचल का मशरूम खाते हैं और यही उनकी सेहत का राज है.

हिमाचल के उस मशरूम को ‘गुच्‍छी’ कहा जाता है. गुच्‍छी केवल प्राकृतिक तरीके से ही मिलता है. यानी इसकी खेती नहीं की जाती. यही वजह है कि ये काफी कम मिलता है और महंगा बिकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गुच्‍छी की कीमत 30 हजार रुपए प्रति किलो तक होती है. इसलिए आम आदमी का इसे खरीद पाना बेहद मुश्किल है. इस मशरूम में कई तरह के विटामिन और पोषक तत्‍व पाए जाते हैं. अगर कोई इसे लगातार खाए तो उसे दिल का दौरा पड़ने की संभावनाएं कम होती हैं.

mushroom

गुच्‍छी की ही तरह मशरूम है यूरोपियन ट्रफल. इसे आम तौर पर मशरूम कहा जाता है मगर यह मशरूम नहीं होता. इसमें एक खास महक होती है. यह 7 से 8 लाख रुपए प्रति किलो तक बिकता है. यह मध्रुम की तरह पकाया नहीं जाता बल्कि इसे श्रेड कर खाने के ऊपर डाला जाता है. यह एक प्रकार का फंगस होता है. ये सैकड़ों साल पुराने ओक के पेड़ की जड़ों के पास पाए जाते हैं.