National Girl Child Day 2020: देश में हर साल 24 जनवरी को राष्‍ट्रीय बालिका दिवस (National Girl Child Day) मनाया जाता है. इसका मकसद बेटियों के विकास में मदद करना है.

क्‍यों मनाया जाता है

बेटियों को उनके अधिकार प्रदान करना. शिक्षा, कानूनी अधिकार, स्वास्थ्य सुविधाएं, सुरक्षा, सम्मान का अधिकार. बेटियों के हक की बात करना. उनके विकास के लिए काम.

कब से मनाया जाता है

साल 2008 से इस दिन को मनाने की शुरुआत हुई. इसे महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार ने शुरू किया. तब से हर साल 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है.

इस दिन का महत्‍व

देश भर में लोगों को बताना कि समाज निर्माण में महिलाओं का बराबर का योगदान है. लोगों को प्रोत्‍साहित करना कि वे लड़कियों को उनके अधिकार दें. पुरुषों के समान महिलाओं को समाज में बराबरी का अधिकार मिले.

Ratan Tata: जवानी में किसी बॉलीवुड हीरो से कम नहीं लगते थे रतन टाटा, Photos Viral

नेशनल गर्ल चाइल्ड डे मनाने का उद्देश्य

– बालिकाओं के अधिकारों के प्रति जागरुकता बढ़ाना.
– अत्याचार और असमानताओं का बालिकाएं सामना करती हैं, उनके बारे में बात करना.
– लड़कियों के शिक्षा और स्वास्थ्य का महत्व समझाने और इसे बढ़ावा देने के लिए.

 

क्‍या करें इस दिन

नेशनल गर्ल चाइल्‍ड के तहत ढेरों कार्यक्रमों का आयोजन होता है. इनमें भाग लें. अपनी बच्चियों को उनके अधिकार बताएं. उनके अधिकार उन्‍हें मिलें, ये सुनिश्चित करें.

लाइफस्‍टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.