Onam 2019: ओणम का त्‍योहार हर साल हर्षोल्‍लास के साथ मनाया जाता है. इस दौरान लोग खुद सजते हैं, अपने घर सजाते हैं, अच्छे-अच्छे पकवान बनाते हैं, नृत्य करते हैं और रंगोली बनाते हैं.

केरल में इस साल भी ऐसा ही माहौल है. केरल के प्रमुख उत्सव ओणम की शुरुआत हो चुकी है और लंबे वीकेंड के चलते यहां के लोग छुट्टियों के मिजाज में हैं.

राज्य सरकार के कर्मचारियों को 16 सितंबर को वापस काम पर लौटना होगा और इस बीच उनकी छुट्टी रहेगी क्योंकि अगले हफ्ते कुछ और त्यौहार पड़ रहे हैं.

यहां मंगलवार से लेकर शुक्रवार तक ओणम की छुट्टी है. इस कारण पूरा हफ्ता छुट्टी वाला है.

बैंक कर्मचारी अगले हफ्ते सिर्फ सोमवार और गुरुवार को ही काम करेंगे, लेकिन केंद्र सरकार के कर्मचारियों को केवल बुधवार (ओणम का तीसरा दिन) ही छुट्टी मिलेगी, इन्हें मुहर्रम का अवकाश नहीं मिलेगा.

ओणम के दौरान सभी शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे और ये वापस 16 सितंबर को खुलेंगे.

ओणम सालों से केरल का एक ऐसा त्यौहार रहा है जिसे केरल में हर श्रेणी के लोग मनाते हैं. केरल में लोग ओणम का त्यौहार राजा महाबली की याद में मनाते हैं जिनके शासन काल में न कोई दुख था और न ही गरीबी या बीमारी थी.

पिछले साल बाढ़ के चलते राज्य में इस त्यौहार को नहीं मनाया गया था और इस साल भी राज्य के बाढ़-प्रभावित क्षेत्रों में इस जश्न को लेकर लोगों में उत्साह कम है.

केरल सरकार ने पिछले महीने इस बात की घोषणा की थी कि इस बार ओणम के जश्न को कम मात्रा में मनाया जाएगा.
(एजेंसी से इनपुट)