दही दक्षिण भारत के साथ उत्तर भारत के खाने का भी एक अहम भाग है. दही ऐसी चीज है जिसे हर उम्र का शख्स खा सकता है. गर्मियों में शरीर को ठंडा रखने वाला ये दही कई महत्वपूर्ण फायदों से सुक्ट है. दही गर्मियों में शरीर को लू के थपेड़ों से बचाता है. चिलचिलाती धूप में ठंडी लस्सी मिल जाए तो तुरंत राहत मिल जाती है. लेकिन क्या आप लोग जानते हैं कि गर्मी के मौसम में राहत देने वाला दही मॉनसून के सीजन में आफत बन सकता है. Also Read - आए दिन बीमार होने से आप परेशान रहते हैं, खाने में इन चीजों का करें सेवन और पाएं निजात

bowl-of-curd-800x510 Also Read - गर्मियों में रोज खाएं दही, जानें खाने के बेजोड़ फायदे

मानसून सीजन राहत तो देता है लेकिन अपने साथ कई प्रकार की समस्याएं भी लेकर आता है. मानसून के मौसम में अगर ठीक तरह से खाने-पीने का ध्यान नहीं रखा गया तो आपको कई सारी बीमारियां हो सकती हैं. इस मौसम में खान-पीने में की गई थोड़ी सी लापरवाही आपको बीमार कर सकती है. लोग सोचते हैं कि इस मौसम में सिर्फ बारिश में भीगने से लोग बीमार होते हैं, जोकि एक गलत धारण है. बारिश के मौसम में खाने पीने में लापरवाही से भी तबीयत पर बुरा असर पड़ता है. Also Read - Tips: बढ़ानी है उम्र तो आज ही अपनाएं ये आदतें, ऐसे करें शुरुआत...

45450-milksupply-to-mumbai-zeenews

बारिश में दही और छाछ के सेवन से बचना चाहिए. मानसून के मौसम में इस तरह के डेयरी प्रोडक्ट्स में बैक्टीरिया की संख्या ज्यादा हो जाती है. इस मौसम में दूध हमेशा उबालकर पिएं. दही में प्रोटीन ज्‍यादा होता है और बारिश के मौसम में ऐसी चीजें से परहेज करना चाहिए जो पित्‍त बढ़ाती हैं.

dairy-products

दही की तासीर ठंडी होती है वहीं बारिश के मौसम में डॉक्‍टर ताजा और गरम खाना खाने की सलाह देते हैं. इस मौसम में हाजमा कमजोर हो जाता है और पेट में गैस बनना भी एक आम समस्या रहती है. मॉनसून में ऐसी चीजें खाने से बचना चाहिए जिससे पेट में गैस बनती हों. इसके अलावा बारिश में मछली और सी फूड्स नहीं खाने चाहिए.

hare-chane-ke-pakode-recipe-800x500

अंडे वाली मछली खाने से फूड प्वाइजनिंग के चांसेस बढ़ जाते हैं. ज्यादातर लोगों को बारिश में गरमा-गर्म पकौड़े खाने का मन करता है, लेकिन इस मौसम में पकौड़े भी संभलकर खाने चाहिए. तला-भुना खाने से एसिडिटी का खतरा बढ़ जाता है.