बोस्टन: वैज्ञानिकों ने एक नरम, गैर विषैला पहन सकने योग्य सेंसर विकसित किया है जिसे हाथ में पहनाकर अंगुलियों की गति पर नजर रखने के साथ ही यह पता लगाया जा सकता है कि किसी चीज को कितनी ताकत से पकड़ा जाता है. Also Read - स्कूल-कॉलेज खुलवाने को लेकर ट्रंप प्रशासन शख्त, कहा- ऑनलाइन पढ़ना है विदेशी छात्र अमेरिका छोड़ें

Also Read - बिहार में अनुसंधानकर्ताओं को समझा NRC सर्वेक्षणकर्ता, ग्रामीणों ने पकड़कर किया पुलिस के हवाले

ALERT: स्‍वास्‍थ्‍य के लिए खतरनाक है ऐसे फल और सब्जियों का सेवन Also Read - वैज्ञानिक बना रहे ऐसी डिवाइस, जिसको पहनने पर मिलेगी वातावरण की जानकारी

समय से पूर्व जन्में बच्चों में अक्सर संज्ञानात्मक विकास संबंधी और न्यूरोमोटर अपंगता विकसित हो जाती है. इन अपंगताओं के प्रभाव को कम करने का सबसे अच्छा तरीका संज्ञानात्मक और मोटर जांच के जरिए उनका जल्दी पता लगाना होता है. हालांकि छोटे बच्चों की मोटर क्रियाओं को सही-सही मापना और दर्ज करना मुश्किल हो सकता है क्योंकि कोई भी परिजन बता सकता है कि बच्चे अपने हाथों में भारी उपकरण पहनना पसंद नहीं करते और ऐसी दिलचस्प चीजों में उनका गहरा लगाव होता है जिसमें नहीं होना चाहिए.

अब नहीं जाएगी आंखों की रोशनी, वैज्ञानिकों ने तैयार किया ऐसा अजूबा ‘आई-ड्रॉप’

यह भी जानें

अमेरिका के हार्वर्ड विश्वविद्यालय के स्नातक छात्र सियी शू ने कहा कि हमने एक नए प्रकार का प्रवाहकीय द्रव्य विकसित किया है जो खारे पानी की छोटी सी बूंद से ज्यादा खतरनाक नहीं है. शू ने कहा कि यह पूर्व के जैवसंगत मिश्रणों से चार गुणा ज्यादा प्रवाहकीय है जिससे साफ और कम शोर करने वाले डेटा मिल सकते हैं. इस मिश्रण को पोटेसियम आयोडाइड और ग्लाइसरोल से तैयार किया गया है.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.