नई दिल्‍ली: सावन का महीना शुरू हो गया है. इस समय हर कोई भगवान भोलेनाथ को खुश करने के प्रयास में रहता है. हो भी क्‍यों ना, ये महीना शिव जी को इतना प्‍यारा जो है. पर क्‍या आपको पता है कि भगवान शिव इस महीने में कहां निवास करते हैं? Also Read - Sawan 2020: सावन के आखिरी सोमवार पर भगवान शिव के दर्शन को उमड़े श्रद्धालु, देखें महाकाल की भस्म आरती

Also Read - कांवड़ यात्रा स्थगित होने के कारण हरिद्वार जिला प्रशासन ने की सीमाएं सील, केवल इन्हें मिलेगी इजाजत

sawan-3 Also Read - कोरोना का असर! इस बार नहीं होगी कांवड़ यात्रा, उत्तराखंड, यूपी और हरियाणा में बनी आम सहमति

मान्‍यताओं के अनुसार भोलेनाथ इस दौरान अपने ससुराल में रहते हैं. और उनके ससुराल के रूप में प्रसिद्ध है कनखल का दक्षेश्‍वर महादेव मंदिर. ये मंदिर हरिद्वार से कुछ किमी दूर है.

Shravan Somvar Vrat: सोमवार व्रत में इन चीजों का करें सेवन, होगी शारीरिक-मानसिक शुद्धि, मिलेगा भोलेनाथ का आशीर्वाद…

कहा भी जाता है कि कैलाश पर्वत भगवान शिव का घर है और कनखल उनकी ससुराल. लोग मानते हैं कि शिव पूरे सावन महीने में अपने ससुराल में ही रहते हैं.

lord-shiva

इसे दक्ष प्रजापति मंदिर भी कहा जाता है. मंदिर के बीचोंबीच भगवान शिव की मूर्ति स्‍थापित है. इस मंदिर में भगवान विष्णु के पांव के निशान भी बने हैं.

Sawan 2018: सावन में इन चीजों को खाने की होती है मनाही, LIST बनाकर रखें याद…

Daksha Mahadev

ये मंदिर भगवान शिव की पहली पत्‍नी माता सती के पिता दक्ष प्रजापति के नाम पर है. पर मंदिर महादेव का ही है. यहां एक यज्ञ कुंड भी है. जिसके बारे में मान्‍यता है कि यहीं माता सती ने आत्‍मदाह किया था.

सावन के महीने में पूरे देश से लोग यहां पहुंचते हैं. मान्‍यता है कि इस समय में यहां जल चढ़ाकर महादेव को खुश किया जा सकता है. इससे सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.