Sushma Swaraj: पूर्व विदेश मंत्री और भाजपा की कद्दावर नेता सुषमा स्वराज अब हमारे बीच नहीं हैं. मंगलवार रात करीब 11.30 उनका निधन हो गया.Also Read - ‘जब अकबरुद्दीन ने सुषमा स्वराज से बोरिस जॉनसन से फोन पर बात न करने को कहा था’

डॉक्‍टर्स के अनुसार कार्डियेक अरेस्‍ट की वजह से उनकी मौत हुई. Also Read - Women Bone Health : जानें औरतों में हड्डियां कमज़ोर होने के कारण और उससे जुड़ी और भी बातें, वीडियो देखें

पिछले कुछ सालों से देश भर में कार्डियेक अरेस्‍ट के मामलों में बेतहाशा वृद्धि हुई है. Also Read - ममता बनर्जी ने विधानसभा में कहा- मैंने राजनाथ सिंह और सुषमा स्वराज जैसे BJP नेताओं को देखा है, लेकिन...

आखिर ये होता क्‍या है? महिलाओं में इसके लक्षण और बीमारी के बारे में जानें सब कुछ.

क्या है कार्डियक अरेस्ट
कार्डियक अरेस्ट तब होता है जब दिल शरीर में खून की सप्लाई करना रोक देता है. इसे सडन कार्डियक अरेस्ट यानी SCA भी कहा जाता है. ये एक मेडिकल इमरजेंसी है.

किस वजह से होता है
मेडिकल टर्म में कार्डियक अरेस्ट का कारण आमतौर पर एबनॉर्मल हार्ट रिद्म को माना जाता है. इसके अलावा कार्डियक अरेस्ट के अन्य मुख्य कारणों में कोरोनेरी आर्टरी डिसीज, हर्ट अटेक, फिजिकल स्ट्रैस, मेजर ब्लड लॉस, ऑक्सीजन की कमी, अधिक व्यायाम को माना जाता है. इसके अलावा कई बार SCA के कारणों का पता लगाना मुश्किल होता है.

डॉक्टर्स कहते हैं कि SCA का कारण स्मोकिंग, मोटापा, उच्च रक्तचाप, उच्च ब्लड कोलेस्ट्रॉल, डायबिटीज, शराब का सेवन या खराब लाइफस्टाल भी हो सकता है.

इन लक्षणों को ना करें इग्‍नोर

– हार्ट अटैक के कई मामलों में कुछ दिन पहले से ही सांस लेने में तकलीफ होने लगती है. इसे शॉर्टनेस ऑफ ब्रेथ भी कहा जाता है. ये लक्षण पुरुष और महिलाओं में समान तौर पर देखा गया है.

– कई लोगों को उल्टी, जी मचलना जैसी फीलिंग होती है. खासकर महिलाओं में ये लक्षण उभरते हैं. इसके अलावा ठंडा पसीना आना या चक्कर आने की समस्या हो तो उसे भी इग्नोर ना करें.

– हेल्थ डॉट कॉम के मुताबिक, अगर आप अचानक बेहोश हो जाएं या आपको तेज चक्कर आने लगें तो समझ लीजिए कि ये दिल से जुड़ी समस्या की वजह से हो रहा है.

– कई शोधों में ये बात सामने आई है कि जब हृदय सही तरह से ब्लड पंप नहीं करता है तो इससे आपके पैरों या तलवों में सूजन आती है.