पीरियड्स के दौरान कई सारी महिलाओं को दर्द,ऐंठन जैसी समस्या होती है. इसके साथ ही कई सारे लोगों का पेट भी फूल जाता है. तो किसी की हड्डियों के दर्द होता है. इसका वजह है आपका गलत खान पान या फिर आपके शरीर में किसी खास चीज की कमी. कई लोगों तो इतना दर्द होता है कि वो दवाईयां तक लेती हैं. ऐसे में आगर आपको भी ऐसा ही दर्द होता है तो आपको कुछ चीजों पर ध्यान देने की जरुरत है.Also Read - पीरियड्स में करें ये 6 बेस्‍ट एक्‍सरसाइज, दर्द के साथ मूड स्विंग्स भी हो जाएंगे कम

पीरियड्स जब आता है लोग अक्सर कहते हैं कि ठंडी चीजों से दूर रहो और जितना हो के गर्म खाना खाओ या फिर गर्म चीजें लो. लेकिन सिर्फ इतना करना ही सेहत के लिए बहुत नहीं है. इस दौरान आपको अपने डाइट में भी बदलाव करना होगा ताकि आप इस दर्द को झेलने के लिए पहले से ही तैयार रहें. ऐसे में आज हम आपको बताएंगे की कैसे आप मासिक धर्म में होने वाली ऐंठन को कम कर सकती हैं वो भी कुछ खास फूड्स की मदद से.

1. मैग्नीशियम से भरपूर चीजें
अपनी डाइट में आप सबसे मैग्नीशियम से भरपूर चीजें को जोड़े ताकि आपकी मांसपेशियों के दर्द से आराम पा सकें इसके साथ ही इससे ऐंठन की समस्या भी कम हो जाती है. मैग्नीशियम को आप कद्दू के बीज,बादाम,पालक,काजू,एवोकैडो और साबुत अनाज में पा सकते हैं. आप चाहें तो इस दौरान अपने डाइट में अखरोट को शामिल कर सकते हैं.

2. कैल्शियम का सेवन
कैल्शियम ने केवल आपकी हड्डियों के स्वसअथ बनाता है बल्कि आपकी मांसपेशियों को भी स्वस्थ बनाके रखता है, खासकर मासिक धर्म के दौरान ये आपकी बहुत मदद करता है. कैल्शियम को आप सोया,तिल के बीज,हरी पत्तेदार सब्जियां की मदद से ले सकते हैं.

3. विटामिन बी 6
अगर आपको पीरियड्स में ऐंठन की बहुत समस्या है और साथ ही चिड़चिड़ापन,थकान और बाकि चीजों की तकलीफ होती हैं तो ऐसे में आप विटामिन बी 6 का इस्तेमाल करें, विटामिन बी 6 को आप जई, गेहूं के रोगाणु, अंडे, दूध, भूरे चावल, सोयाबीन, मछली, और मीठे आलू में पाया जाता है.

4. ओमेगा -3 फैटी एसिड
ओमेगा -3 फैटी एसिड वैसे भी स्वास्थ के लिए बहुत अच्छा होता है इसके लेने से आपको सूजन की समस्या नहीं होता है. ओमेगा -3 फैटी एसिड आपको सैल्मन,मैकेरल,हेंरिग,ट्यूना, और सार्डिन जैसी फैटी मछलियों में पाया जाता है. यह फ्लैक्ससीड्स और चिया सीड्स में भी पाया जाता है.

5. पीरियड्स में दर्द से राहत पाने के अन्य तरीके
नियमित व्यायाम बहुत हद तक ऐंठन से निपटने में मदद कर सकता है. अपने नियमित दिनों में जितना हो सके उतना सक्रिय रहने की कोशिश करें और कुछ कोमल व्यायाम करें जैसे कि पीरियड्स के दौरान चलना या कोमल योग. गर्म सेक और हल्की मालिश भी सहायक होती है.