कुछ दिन पहले एक खबर आई थी. इसमें कहा गया था कि जुड़वां बच्‍चों के पिता अलग-अलग पाए गए.

महिलाओं के क्‍यों होते हैं Extra Marital Affair, जानें असली वजह…

मामला चीन का था. ये खुलासा तब हुआ जब जन्‍म के बाद बच्‍चे का पेटरनिटी टेस्‍ट कराया गया. तब पता चला कि डीएनए टेस्‍ट में दोनों बच्‍चों के पिता अलग-अलग हैं.

क्‍या ये संभव है?
विज्ञान कहता है कि जुड़वां बच्चे तब होते हैं जब महिला दो बार फर्टिलाइजेशन से गुजरती है. पर दुनिया भर में ऐसे मामले रेयर हैं जब बच्‍चे जुड़वां हों पर उनके पिता अलग-अलग हों. एक्‍सपर्ट कहते हैं कि ऐसा तब संभव है जब महिला एक ही दिन में दो पुरुषों से यौन संबंध स्‍थापित करे. इस घटना को मेडिकल की भाषा में heteropaternal superfecundation कहा जाता है.

महिलाओं को हो ये बीमारी तो घट जाते हैं प्रेग्‍नेंसी के चांस, क्‍या हैं लक्षण, कैसे करें बचाव…

Heteropaternal Superfecundation
दो पुरुषों के साथ संबंध बनाने के दौरान अगर दोनों पुरुषों के अंडे महिला के साथ फर्टिलाइज हो जाते हैं, तो जुड़वा बच्चे होने की संभावना बढ़ती है और दोनों अलग-अलग पिता के हो सकते हैं.

ये मामले रेयर हैं. पूरी दुनिया में 10 से भी कम मामलों में जुड़वां बच्‍चों के पिता अलग-अलग पाए गए हैं. इसकी एक वजह तो यह है कि Heteropaternal Superfecundation आम बात नहीं है. दूसरी वजह है बच्‍चे का पेटरनिटी यानी डीएनए टेस्‍ट. जो कई देशों में जन्‍म के बाद कराया ही नहीं जाता.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.