नए साल की पूर्व संध्‍या पर पूरी दुनिया में पार्टी का माहौल होता है. लोग जमकर पीते-पिलाते हैं. पर उत्‍तर प्रदेश में इस बार शराब बिकने का रिकॉर्ड कायम हो गया है.

बीते साल को अलविदा और नए साल का स्वागत करते हुए उत्तर प्रदेश के शराब के शौकीनों ने नए साल की पूर्व संध्या पर 50 लाख लीटर शराब खरीदी. एक अधिकारी ने आबकारी विभाग के रिकॉर्ड के हवाले से इस बात की जानकारी दी है.

अधिकारी ने कहा कि नए साल की पूर्व संध्या पर यह बिक्री दर्ज की गई. अब 2019 के पहले दिन शराब की बिक्री की जानकारी जुटाई जा रही है.

alcohol

आकंड़े बताते हैं कि शराब की दुकानों पर 31 दिसंबर को बिक्री लगभग दोगुनी रही. इसमें घरों व होटलों में लोगों द्वारा पी गई शराब शामिल नहीं है. नए साल की पूर्व संध्या पर 31 लाख लीटर देशी शराब की भी बिक्री हुई है.

आंकड़े दर्शाते हैं कि भारतीय निर्मित विदेशी शराब (आईएमएफएल) की 18 लाख बोतलें बिकीं और बीयर की बिक्री ने 23 लाख बोतलों का आकंड़ा छुआ.

आबकारी विभाग ने बताया कि पिछले साल नववर्ष की पूर्व संध्या पर शराब की बिक्री की तुलना में इस साल वृद्धि देखी गई. आबकारी विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, हर साल शराब की बिक्री होली और नए साल की पूर्व की शाम पर बहुत अधिक होती है.

आंकड़े दर्शाते हैं कि औसतन हर महीने आईएमएफएल की 1.60 करोड़ बोतलें और बीयर की 2.9 करोड़ बोतलें बिकती हैं.

(एजेंसी से इनपुट)

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.