16 दिसंबर 1971 को एक लंबे संघर्ष के बाद भारतीय सेना ने पाकिस्तान के 93 हजार सैनिकों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था. बांग्लादेश मुक्ति वाहिनी के साथ मिलकर भारतीय सेना ने पाकिस्तान पर विजय पाई थी.

पाकिस्तानी सेना प्रमुख आमिर अब्दुल्ला खान नियाज़ी ने बिना शर्त के अपने सैनिकों के साथ समर्पण और पूर्वी पाकिस्तान (बांग्लादेश) को आजाद करने के बाद इस युद्ध का अंत हुआ था. उस दिन को पूरा भारत विजय दिवस के रूप में मनाता है.

इस विजय में भारतीय सेना ने अपने अनेक सैनिक खो दिए. आज के दिन शहीदों की कुर्बानी याद करते हुए उन्हें श्रृद्धांजलि दी जाती है.

तो देर किस बात की है, आप भी देखें ऐसी Images, जो देशभक्ति की भावना से ओतप्रोत हैं, इन्‍हें Save करके आप आगे भेज सकते हैं-

1

2

3

4

5

6

7

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.