सिडनी: वैज्ञानिक एक ऐसी पहनी जाने वाली डिवाइस विकसित कर रहे हैं, जिसका उद्देश्य पर्यावरणीय डेटा एकत्र करते हुए व्यक्तिगत जानकारी प्रदान करना है. शोधकर्ताओं के अनुसार, यह डिवाइस इसे पहनने वाले व्यक्ति के तत्कालिक वातावरण पर उसकी शारीरिक प्रतिक्रिया को माप सकता है. Also Read - इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज शुरू होने से पहले रहाणे ने कहा- ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जीत अब पुरानी बात

Also Read - Sydney Racism: भारतीय क्रिकेटरों पर नस्लभेदी टिप्पणी पर भड़के जय शाह, बोले- भेदभावपूर्ण हरकतें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी

कोलेस्ट्राल को कम करने वाली ये दवा रोक सकती है न्यूरोलॉजिकल डिऑर्डर, जानिए क्‍या कहता है शोध Also Read - IND vs AUS 3rd Test Live Streaming: जानें कब और कहां देखें भारत-ऑस्ट्रेलिया तीसरे टेस्ट की लाइव टेलीकास्ट और ऑनलाइन स्ट्रीमिंग

यूएनएसडब्ल्यू की नेगिन नजारियन ने कहा कि हमने फिटबिट घड़ियों में कुछ सेंसर लगा दिए हैं, जो वायु तापमान और आद्र्रता से जानकारी लेते ही हैं, साथ ही उस वातावरण में उस व्यक्ति के दिल की धड़कन, त्वचा के तापमान और त्वचा की आद्र्रता जैसी शारीरिक प्रतिक्रिया की भी जानकारी लेते हैं. नजारियन ने कहा कि हमने कुछ एप्स भी विकसित किए हैं, जहां आप हमसे बात कर सकते हैं और हमें वातावरण के बारे में अपना अहसास बता सकते हैं, जिससे हम एक कार्यप्रणाली और समाधान विकसित कर सकते हैं, जिसे अमल में लाया जा सके.

Tips: बेहद गुणकारी है इस फल का पत्‍ता, तुरंत रोक देता है Hair Fall

व्यक्तिगत अनुकूल मॉडल बनाना

टीम का कहना है कि परियोजना कूलबिट का उद्देश्य प्रत्येक पहनने वाले के लिए व्यक्तिगत अनुकूल मॉडल बनाना है. शोधकर्ताओं के अनुसार, एक कूलबिट यूजर दौड़ लगाने के लिए व्यक्तिगत रूप से सुरक्षित मार्ग तैयार कर सकता है.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.