अक्सर लोगों के साथ ऐसा होता है कि चाय की चुस्कियां लेते हुए कप टेबल पर रखा, दोबारा उठाया तो उसमें मक्खी या मच्छर पड़ा हुआ है. ये देखते ही मन खराब हो जाता है. कई बार लोग मक्खी-मच्छर को निकाल बाहर फेंक देते हैं और चाय पी जाते हैं. पर क्या ऐसा करना चाहिए? क्या इस तरह की चाय पीना सुरक्षित है?

Tips: कितनी देर में जाना चाहिए बाथरूम? यूरीन रोकने से खराब होता है पूरा शरीर…

सच्चाई जानकर हैरान रह जाएंगे. पहले तो ये समझ लीजिए कि जिस कॉकरोच को आप मक्खी-मच्छर से ज्यादा खतरनाक समझते हैं, वो दरअसल में इनसे कम हानिकारक है. क्योंकि कॉकरोच भी उतनी गंदगी लिए नहीं होता जितना मक्खी लिए घूमती है.

coffee-main-2.jpg

कुछ समय पहले एक रिसर्च हुआ था. इसमें पाया गया था कि मक्खियां जब सड़े खाने, कचरे और पशु के शवों पर बैठती है तो वो अपने साथ वहां मौजूद बैक्टीरिया और वायरस लिए घूमने लगती है. ये सभी मक्खी के शरीर पर खासकर उनके पैर पर अटक जाते हैं. जहां तक मच्‍छर और कॉकरोच की बात तो ऐसा नहीं होता. इसलिए इन तीनों में मक्‍खी सबसे खतरनाक होती है.

Tips: शादीशुदा जीवन में चाहते हैं बहार तो हर हफ्ते ये सब्जी खाएं एक बार…

एक अन्य सर्वे में ये बात सामने आई थी चाय में गिरे मक्खी, मच्छर और छोटे कॉकरोच निकालकर चाय पीने वाले लोगों में से वे लोग ज्यादा बीमार पड़े, जिन्होंने चाय में से मक्खी को निकालकर वो चाय पी थी.

विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट में भी कहा गया था कि मक्ख्यिों के कारण बहुत सारे रोग जैसे आंख में इन्‍फेक्‍शन, स्किन में इन्‍फेक्‍शन और पेट में दर्द जैसी बीमारियों के शिकार हो जाते हैं.

जहां तक मच्दर की बात है तो वो केवल काटकर आपको संक्रमित करता है. जबिक मक्खी सारी गंदगी लिए आपकी चाय में गिरती है.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.