विदेश घूमने की योजना बनाने वालों के लिए यात्रा बीमा जरूरी है क्योंकि यात्रा के दौरान किसी प्रकार की इमरजेंसी आने पर इसके कई फायदे होते हैं. मसलन, मेडिकल इमरजेंसी होना, परिवार में कोई घटना होना, आतंकी घटना होना या किसी अन्य कारण से यात्रा रद्द करने की नौबत आना. ऐसी परिस्थितियों में यात्रा बीमा का फायदा होता है, क्योंकि बीमा कराने पर उसमें नुकसान की भरपाई हो जाती है.

पॉलिसी बाजार के चीफ बिजनेस आफिसर तरुण माथुर बताते हैं कि अगर हवाई अड्डे पर बैगेज बेल्ट में किसी को चेक्ड इन बैगेज देखने को ना मिले तो उनको परेशानी हो सकती है, लेकिन यात्रा बीमा करवाने पर इस नुकसान की भरपाई हो सकती है. उन्होंने कहा, ‘यात्रा बीमा होने पर बीमा कंपनी आपका सामान खोने या उसे नुकसान होने, उसकी मरम्मत या खोए सामान के बदले नया सामान या फिर उसका वास्तविक नकद मूल्य इनमें से जो भी कम हो उसकी भरपाई करती है’.

उन्होंने कहा, ‘इस बात हमेशा संभावना रहती है कि आपने जिस ट्रिप की योजना बनाई है, वो किसी फैमिली इमरजेंसी, बीमारी या फिर किसी भी ऐसे कारण से रद्द हो सकती है, जो आपके नियंत्रण से बाहर रहे. ऐसी सभी परिस्थितियों में यात्रा बीमा आपका मददगार बन सकती है, क्योंकि यह उस नुकसान की भरपाई करती है, जो किसी इमरजेंसी के कारण रद्द होने वाली आपकी यात्रा के चलते आपको उठाना पड़ सकता है. फ्लाइट या होटल बुकिंग रद्द होने के कारण हुए नुकसान को भी बीमा कंपनी कवर करती है’.

माथुर ने कहा कि किसी अन्य देश की यात्रा करते वक्त यह संभावना भी हमेशा होती है कि अलग मौसम या किसी अन्य कारण से स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या पैदा हो.

उन्होंने कहा, ‘ऐसी स्थिति में आपको वहां मौजूद सबसे अच्छी चिकित्सा सुविधाएं तभी मिल सकेंगी जब आपके पास पर्याप्त बीमा कवर होगी. कई सारी यात्रा बीमा पॉलिसियां अस्पताल में भर्ती होने के लिए रोजाना का कैश अलाउंस या इमरजेंसी इवैक्युएशन में भी मदद करती हैं’.

उन्होंने कहा, ‘जब आप विदेश में छुट्टियां बिताते समय अगर आपके घर में चोरी या लूटपाट हो जाए. ऐसी कोई घटना होने से आपको मानसिक तनाव के साथ ही बड़ा आर्थिक नुकसान भी हो सकता है. इससे बचने के लिए एक ऐसा यात्रा बीमा खरीदना जरूरी होगा जो आपके विदेश में होने पर चोरी एवं लूटपाट से आपके घर की सुरक्षा करे. इस फीचर के अंतर्गत आपकी संपत्ति में लूटपाट या सेंधमारी की किसी भी घटना से होने वाले नुकसान को पॉलिसी में कवर की जाती है’.

विदेश यात्रा के दौरान एक शहर से दूसरे शहर जाते समय ऐसा भी हो सकता है कि किसी कारणवश कनेक्टिंग फ्लाइट छूट जाए. ऐसे में होने वाले नुकसान की भरपाई करने वाली एक यात्रा बीमा पॉलिसी है जिसमें बीमा कंपनी यात्री के सभी खर्च उठाती.

उन्होंने कहा, अधिकतर बीमा पॉलिसियों में आंतकवादी हमले की स्थिति को कवर नहीं की जाती है, लेकिन कुछ ही ऐसे प्लान हैं जिसमें ऐसे हमलों को भी कवर की जाती है.

माथुर ने कहा, ‘अगर आपकी पॉलिसी में यह स्पष्ट रूप से कहा गया हो कि आतंकवादी हमलों से जुड़े कोई भी खर्च कवर नहीं होंगे तो किसी भी हालत में बीमा कंपनी आपको ऐसी घटना में सुरक्षा प्रदान नहीं करेगी, फिर चाहे अस्पताल में भर्ती होना पड़े या फ्लाइट में देरी हो जाए’.

उन्होंने कहा कि कुछ कंपनियां आतंकवादी हमलों के लिए कवरेज प्रदान करती हैं जैसे कि रॉयल सुंदरम जनरल इंश्योरेंस का ट्रैवल सिक्योर प्लान दुर्घटना मृत्यु या घायल होने पर सुरक्षा देता है और पॉलिसीधारक की मौत होने पर उसके अंतिम अवशेषों को भारत पहुंचाने की व्यवस्था भी करता है या फिर उस देश में अंतिम संस्कार का खर्च भी वहन करता है जहां पॉलिसीधारक यात्रा कर रहा था.

उन्होंने कहा, ‘विदेश यात्रा की तैयारी करते समय अपने और अपने परिवार के लिए एक एक समग्र यात्रा बीमा अवश्य खरीदें ताकि श्रीलंका में हुए आतंकी हमले जैसी किसी भी अनहोनी की स्थिति में आर्थिक सुरक्षा मिले’.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.