नई दिल्‍ली: एक्सरसाइज करने का समय चुनने में हर किसी की अपनी-अपनी पसंद होती है. वह व्यक्ति जो सुबह के समय एक्सरसाइज करता है, वह सुबह के समय ही एक्सरसाइज करेगा, वहीं शाम का समय जिस इंसान को एक्सरसाइज करने के लिए बेहतर लगता है, वह यह सोचेगा कि वह सुबह कैसे समय पर उठ पाएगा. इस विषय पर अक्सर लंबी बहस होती रहती है कि वर्कआउट के लिए सबसे बेस्ट टाइम कौन सा है. दरअसल, आपको एक्सरसाइज करने का समय अपनी जीवनशैली और व्यस्तताओं को ध्यान में रखकर ही करना चाहिए. लेकिन हम यहां आपको कुछ कुछ बातें बता रहे हैं, जिनके आधार पर आप अपने एक्सरसाइज करने का समय निर्धारित कर सकते हैं.

सिर्फ अच्‍छी सेक्‍स लाइफ से ही नहीं बनते अच्‍छे रिश्‍ते, पार्टनर को खुश रखने के लिए अपनाए ये टिप्स

मॉर्निंग के ये हैं फायदे
अक्‍सर सुबह के समय वर्कआउट या रनिंग करना काफी सुविधाजनक होता है, क्योंकि जिम में या बाहर ज्यादा लोग और क्राउड नहीं होता है. जिससे आपको पर्याप्त समय और जगह मिलती है और एक्सरसाइज ज्यादा असरदार बनती है.
सुबह के समय एक्सरसाइज करने से आपका रूटीन बना रहता है. क्योंकि सुबह के समय आप खाली रहते हैं और कोई जरूरी काम भी नहीं होता है, जिससे रूटीन के टूटने का खतरा नहीं रहता है.
सुबह के समय एक्सरसाइज करने के लिए आपको जल्दी उठना पड़ता है, जिसकी वजह से रात को आसानी से जल्दी नींद आ जाती है. सेहतमंद और पतला रहने के लिए आपको रोजाना 7-8 घंटों की नींद लेना बहुत जरूरी है. कुछ रिसर्च में दावा किया गया है कि, पर्याप्त नींद लेने से आपको जंक फूड और अपोषित खाने की ललक कम होती है.
सुबह-सुबह हमारे शरीर का मेटाबॉलिज्म रेट तेज होता है, जिससे वर्कआउट करने के बाद आपका मेटाबॉलिज्म और तेज हो जाता है और शरीर की अतिरिक्त चर्बी घटती है.

Blind Date है क्‍या, अगर आप भी करने जा रहे ऐसा तो रखें इन बातों का ध्‍यान

इवनिंग के ये हैं फायदे
इवनिंग एक्सरसाइज या वर्कआउट करते हुए आपके पास पर्याप्त समय और शारीरिक ताकत होती है, जिस वजह से आप वर्कआउट में ज्यादा मेहनत कर पाते हैं. वर्कआउट में ज्यादा मेहनत करने से मसल्स विकसित होती हैं और शारीरिक ताकत बढ़ती है.
वर्कआउट करने से दीमाग में कॉर्टिसोल नामक स्ट्रेस हॉर्मोन का स्तर कम होता है, जिससे आप ज्यादा रिलैक्स होते हैं और अच्छी नींद आती है.
जिन लोगों को अपने काम-काज की वजह से सुबह समय नहीं मिलता है, उनके लिए इवनिंग वर्कआउट काफी अच्छा विकल्प है. वह ऑफिस से सीधा जिम जाकर एक्सरसाइज कर सकते हैं.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.