दाल बनाने के बाद उसमें तड़का क्यों लगाया जाता है? आप कहेंगे स्वाद के लिए. पर हम कहेंगे स्वाद और सेहत दोनों के लिए.

आप सोच रहे होंगे कि तड़के से भला सेहत का क्या संबंध होगा, पर ऐसा है. अक्सर हम सभी दाल को और स्वादिष्ट बनाने के लिए तड़का लगाते हैं. कई तरह से तड़का लगाया जाता है.

Coffee पीने का वो एक फायदा जो अब तक कोई नहीं बता पाया, आपने भी नहीं सुना होगा!

चाहे आप दाल में जीरे का, लहसुन-हरी मिर्च, प्याज-टमाटरर का तड़का लगाएं, ये सभी चीजें गुणों से भरपूर होती हैं. और जब ये तड़के में शामिल हों तो तड़का भी स्वास्थ्यवर्धक हो जाता है.

khas-khas-chi-daal.jpg

तड़के के फायदे
– तड़के के लिए लहसुन प्रयोग करते हैं तो इससे इम्यूनिटी बूस्ट होती है. लहसुन में पाए जाने वाले एंटी-बैक्टीरियल गुण मिलते हैं. साथ ही इंफेक्शन, सर्दी-खांसी व सिर दर्द जैसी परेशानियां दूर होती हैं.
– किसी भी तरह का तड़का हो उसमें जीरा जरूर डाला जाता है. जीरा पाचन के लिए बहुत अच्छा माना जाता है. जीरे से पेट फूलना, डायरिया, एसिडिटी और अपच जैसी समस्याएं दूर होती हैं.
– तड़के में सूखी लाल मिर्च डाली जाती है. इसमें कई तरह के विटामिन होते हैं, जिससे दर्द में राहत मिलती है. इसके इस्तेमाल से मोटापा कंट्रोल में रहता है.
– करी पत्ते से कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल में रहता है. पाचन सही रहता है, डायबिटीज का खतरा दूर होता है. इसमें फाइबर, विटामिन ई, बी, ए, आयरन और कैल्शियम भी पाया जाता है.
– हींग से गैस की समस्या दूर होती है. अपच और एसिडिटी में फायदेमंद है. पेट की हर समस्या दूर हो जाती है.

Videos देख शिल्पा शेट्टी से सीखें हर तरह का Yoga, चंद दिनों में हो जाएंगे फिट…

कैसे लगाएं तड़का
अगर आप तड़के के लिए देसी घी का इस्तेमा करेंगे तो बेहतर रहेगा. कई लोग तेल में भी तड़का लगाते हैं. दोनों के अपने फायदे हैं. ये आपकी च्वाइस पर निर्भर करता है कि आप कौन सा तड़का लगाना चाहते हैं. कड़ाही या पैन में घी या तेल गर्म करें. इसमें हींग, करी पत्ता, जीरा, हरी मिर्च, लहसुन, प्याज डालकर चलाएं. जब गोल्डन ब्राउन हो जाए तो उसमें टमाटर डालें. ऊपर से नमक डालकर ढक कर रख दें. जब मसाला अच्छी तरह से मिक्स हो जाए तो इसमें वो मसाले डाल दें, जो आप खाना पसंद करें. जब ये थोड़ा पक जाए तो इसमें दाल डाल दें.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.