घर की साफ-सफाई करते-करते महिलाएं एक गंभीर बीमारी की चपेट में आ जाती हैं. ये बात एक अध्‍ययन में सामने आई है. Also Read - क्या आपकी पत्नी भी है अपने प्राइवेट पार्ट को लेकर लापरवाह? तो ऐसे रखें उनके खान-पान का खास ख्याल

Also Read - राष्ट्रीय महिला आयोग को 2020 में मिलीं 23,722 शिकायतें, छह साल में सबसे ज्यादा

इस अध्‍ययन में कहा गया है कि घर की साफ-सफाई महिलाओं के फेफड़ों की सेहत पर भारी पड़ सकती है. Also Read - Health Tips: 35 की उम्र के बाद बनना चाहती हैं मां तो इन बातों का रखें खास ख्याल, जल्द मिलेगी खुशखबरी

पुरुषों से ज्‍यादा आलसी होती हैं औरतें, ये रहा सुबूत…

शोध के नतीजे

कुछ माह पहले नॉर्वे स्‍थ‍ित University of Bergen ने एक अध्‍ययन किया था. इस अध्‍ययन की रिपोर्ट में यह खुलासा किया गया कि घर की साफ-सफाई महिलाओं के फेफड़ों पर एक साथ 20 सिगरेट पीने जितना असर करती है. इससे उनमें सांस से संबंधित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है.

Red Wine पीने से लाइफ की हर टेंशन दूर हो जाती है, हां ये सच है…

रिपोर्ट में यह दावा भी किया गया कि घर की साफ-सफाई करने वाले पुरुषों के फेफड़ों पर महिलाओं की तुलना में कम असर होता है. यह अध्‍ययन 6235 महिलाओं और पुरुषों पर किया गया था.

शोधकर्ताओं के अनुसार, सफाई के लिए उपयोग होने वाले उत्‍पादों में मौजूद केमिकल के कारण महिलाओं में सांस संबंधित बीमारियां मसलन, अस्‍थमा आदि की आशंका बढ़ जाती है.

विशेषज्ञों का दावा है कि सफाई के लिए ज्‍यादा केमिकल का इस्‍तेमाल करने वाली महिलाओं का एयरवेज हर दिन धीरे-धीरे क्षतिग्रस्‍त होता रहता है.