नई दिल्ली. लोकसभा चुनावों के प्रथम चरण में 27 फीसदी कांग्रेस उम्मीदवारों और 19 फीसदी भाजपा उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. यह जानकारी एडीआर इंडिया (ADR India) की रिपोर्ट में दी गई है. चुनाव के प्रथम चरण में दोनों राष्ट्रीय दलों ने 83 – 83 उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं. एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स की तरफ से जारी बयान के मुताबिक, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) ने पहले चरण में आठ उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं, जिनमें से तीन के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. Also Read - वादा तेरा वादा.....बिहार चुनाव में लगी वादों की झड़ी, किस पार्टी ने जनता से क्या की है प्रॉमिस, जानिए

उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ लंबित गंभीर आपरधिक मामलों के बारे में खुद घोषणा की है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के छह उम्मीदवार मैदान में हैं जिनमें से दो के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. तृणमूल कांग्रेस के पांच उम्मीदवारों में से किसी के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज नहीं हैं. बहुजन समाज पार्टी ने चुनाव के प्रथम चरण में 32 उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं. इनमें से 19 फीसदी के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. Also Read - महाराष्ट्र में BJP को बड़ा झटका- एकनाथ खडसे ने छोड़ा पार्टी का साथ- NCP में होंगे शामिल?

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने आठ उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं जिनमें से केवल एक के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामला दर्ज है. प्रथम चरण में 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 91 लोकसभा सीटों पर बृहस्पतिवार को मतदान होगा. Also Read - Bihar Assembly Election 2020: तेजस्वी की चाल में उलझा जदयू, 77 सीटों पर सीधा मुकाबला

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com