नयी दिल्ली: लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में बृहस्पतिवार को 11 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेश की 95 सीटों पर 67.84 प्रतिशत मतदान हुआ. वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा ने बताया छिटपुट घटनाओं को रोक लिया गया. वहीं कुल मिलाकर मतदान शांतिपूर्ण रहा. Also Read - बीजेपी सांसद ने लोकसभा चुनाव लड़ने को बनवाया था फर्जी जाति प्रमाण पत्र, एफआईआर

  Also Read - लोकसभा चुनाव के बाद दिल्ली में बढ़े ढाई लाख मतदाता, 6 जनवरी को जारी होगी अंतिम मतदाता सूची

देश के कुल 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में 95 सीटों पर मतदान हुआ. इसमें तमिलनाडु की 39 में से 38 सीटों पर मतदान हुआ क्योंकि वहां की वेल्लोर सीट पर धनबल के गलत इस्तेमाल की आशंका को देखते हुए चुनाव को रद्द कर दिया गया. पूर्वोत्तर के त्रिपुरा राज्य में पूर्वी त्रिपुरा सीट पर कानून व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए चुनाव को 23 अप्रैल के लिए टाल दिया गया है. ओडिशा में बुधवार को संदिग्ध माओवादियों ने एक महिला निर्वाचन कर्मी की हत्या कर दी. इसे मिलाकर पिछले 24 घंटों में हिंसा की दो घटनाओं की जानकारी मिली है. एक अन्य मौत की जानकारी बृहस्पतिवार को मिली है. बाकी मतदान शांतिपूर्ण रहा.

पीएम नरेंद्र मोदी आज दिल्ली के तालकटोरा स्‍टेडियम में व्यापारियों को करेंगे संबोधित

ओडिशा में दिल का दौरा पड़ने से एक निर्वाचन अधिकारी की मौत
मतदान के दौरान एक मतदाता और एक चुनाव कर्मी की मौत की जानकारी और मिली है. इसमें ओडिशा में दिल का दौरा पड़ने से एक निर्वाचन अधिकारी की मौत की घटना शामिल है. इसके अलावा मणिपुर और पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर में ईवीएम क्षतिग्रस्त किये जाने का भी मामला सामने आया है. मतदान के अंतरिम आंकड़ों के मुताबिक दूसरे दौर में सर्वाधिक 78 प्रतिशत मतदान पुडुचेरी में रहा. वहीं सबसे कम मतदान 43.4 प्रतिशत जम्मू-कश्मीर में दर्ज किया गया. इस चरण में जम्मू-कश्मीर की ऊधमपुर और श्रीनगर सीट पर चुनाव हुआ.

थेनी में बोले PM मोदी, ‘भारत की विश्व पटल पर तेजी से तरक्की के कारण विपक्ष मुझसे नाराज’

पश्चिम बंगाल, मणिपुर, असम, छत्तीसगढ़ और तमिलनाडु में 70 फीसद मतदान
उन्होंने बताया कि 70 प्रतिशत से अधिक मतदान वाले राज्यों में पुडुचेरी के अलावा पश्चिम बंगाल, मणिपुर, असम, छत्तीसगढ़ और तमिलनाडु शामिल हैं. उप चुनाव आयुक्त सुदीप जैन ने जानकारी दी कि मतदान के दौरान ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतों पर कुल 1,000 मतपत्र यूनिट, 769 नियंत्रक यूनिट और 2,766 वीवीपैट मशीनों को बदला गया. दूसरे चरण में कर्नाटक की 14, महाराष्ट्र की 10, उत्तर प्रदेश की आठ, बिहार, ओडिशा एवं असम की पांच-पांच और छत्तीसगढ़ एवं पश्चिम बंगाल की तीन-तीन सीटों पर मतदान हुआ. इस चरण में उड़ीसा की 35 विधानसभा सीटों पर भी मतदान हुआ. वहीं तमिलनाडु में 18 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिये वोट डाले गये. (इनपुट – एजेंसी)

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com