रायपुर. छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर लोकसभा क्षेत्र में सात उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. यहां पहले चरण में 11 अप्रैल को मतदान होगा. राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि बस्तर संसदीय क्षेत्र के लिए नाम वापसी की समय-सीमा 28 मार्च को समाप्त हो गई.

निर्धारित समय-सीमा में किसी भी उम्मीदवार ने नामांकन पत्र वापस नहीं लिया. नाम वापसी का समय खत्म होने के बाद सात उम्मीदवार चुनाव मैदान में शेष हैं. अधिकारियों ने बताया कि बस्तर लोकसभा क्षेत्र के लिए आठ उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल किए थे. लेकिन जांच के बाद राष्ट्रीय जनसभा पार्टी के प्रत्याशी जयसिंह कावड़े का नामांकन पत्र निरस्त कर दिया गया था.

चुनाव चिन्ह आवंटित
उन्होंने बताया कि कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी अय्याज तम्बोली ने सभी सातों उम्मीदवारों को चुनाव प्रतीक चिन्हों का आबंटन कर दिया है. छत्तीसगढ़ की कुल 11 लोकसभा सीटों के लिए तीन चरणों में 11 अप्रैल, 18 अप्रैल और 23 अप्रैल को मतदान होगा. राज्य में कुल 1,89,16,285 मतदाता हैं, जिनमें 94,77,113 पुरूष और 94,38,463 महिला मतदाता हैं. वहीं तृतीय लिंग के मतदाता 709 हैं.