मुजफ्फरनगर: लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के दौरान लगी आचार संहिता के चलते दूल्हे द्वारा दुल्हन को हेलीकॉप्टर में विदा कराने का सपना अधूरा रह गया. इसके लिए बुक कराए गए दो हेलीकॉप्टर प्रशासन ने उतरने ही नहीं दिए. जिला प्रशासन ने शादी में किराए पर लिए गए हेलीकाप्टरों को आम चुनाव के मद्देनजर आदर्श आचार संहिता लागू होने का हवाला देते हुए उतरने की अनुमति नहीं दी.

पुलिस ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि व्यापारी हाजी कल्लू ने अपने दो बेटों की शादी के लिए एक निजी कंपनी से हेलीकाप्टर किराए पर लिए थे. उन्होंने मुझेड़ा और कुल्हेड़ी गांवों से पुत्रवधुओं को खतौली कस्बे में विदा कराने के लिए हेलीकॉप्टर बुक कराए थे.

कांग्रेस सही मायने में राष्ट्रीय पार्टी, BJP में पहले लोकशाही थी, अब तानाशाही है: शत्रुघ्न सिन्हा

जिला प्रशासन ने आदर्श आचार संहिता लागू होने के आधार पर हेलीकाप्टरों को उतरने की अनुमति नहीं दी. खतौली कस्बा मुजफ्फरनगर लोकसभा क्षेत्र के तहत आता है. हेलीकॉप्टर उतरने की इजाज़त नहीं मिलने पर दूल्हा पक्ष को निराशा हुई. दुल्हन के दरवाजे पर हेलीकॉप्टर से नहीं पहुँच सका.