चेन्नई. देश के सभी सियासी दल इस बार के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) को विशेष या महत्वपूर्ण चुनाव बता रहे हैं. भाजपा जहां विपक्षी दलों को भ्रष्टाचार का कुनबा बताकर दोबारा सत्ता पाने की जद्दोजहद में जुटी हुई है, वहीं कांग्रेस समेत कई पार्टियां भाजपा पर सत्ता का दुरुपयोग करने का आरोप लगा रही हैं. बहरहाल, लोकसभा चुनाव की घोषणा हो चुकी है. सभी दल एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने के साथ-साथ उम्मीदवारों के चयन में भी जुट गए हैं. चुनाव की गंभीरता को देखते हुए सभी दल संभावित उम्मीदवारों के चयन में सावधानी बरत रहे हैं.

कांग्रेस और भाजपा जहां विभिन्न लोकसभा क्षेत्रों से वर्तमान और संभावित उम्मीदवारों का फीडबैक ले रही हैं, वहीं दक्षिण भारत में चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों को इसके लिए इंटरव्यू तक देना पड़ रहा है. इंटरव्यू के दौरान उम्मीदवारों को उन तमाम सवालों का सामना करना पड़ रहा है, जिसको लेकर उनसे क्षेत्र में सवाल किया जा सकता है. इंटरव्यू लेने वाली पार्टी चुनाव में उतरने से पहले अपने प्रत्याशियों का दम जांच लेना चाहती है, ताकि ज्यादा से ज्यादा सीटों पर जीत की इबारत लिखी जा सके.

इसी क्रम में तमिलनाडु में अन्नाद्रमुक ने 18 अप्रैल को राज्य में होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया सोमवार को शुरू कर दी. पार्टी ने दस लोकसभा क्षेत्रों में टिकट चाहने वालों का साक्षात्कार किया है. सत्तारूढ़ दल ने 18 विधानसभा क्षेत्रों में होने वाले उपचुनावों के लिए भी उम्मीदवारों से आवेदन मांगे हैं. इन विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव लोकसभा चुनावों के साथ ही होंगे. तमिलनाडु में 39 लोकसभा सीटों और पुडुचेरी की एकमात्र सीट पर दूसरे चरण में 18 अप्रैल को चुनाव होंगे. गौरतलब है कि देश भर में 543 लोकसभा सीटों पर सात चरणों में चुनाव होंगे. पार्टी ने सोमवार को इन साक्षात्कारों की तस्वीरें जारी की, जिसमें आप देख सकते हैं कि पुरुष हो या महिला उम्मीदवार, सभी को इंटरव्यू देना पड़ रहा है.

अन्नाद्रमुक द्वारा जारी तस्वीरों में लोकसभा चुनाव लड़ने को इच्छुक उम्मीदवारों को पार्टी दफ्तर के बाहर इंटरव्यू के लिए इंतजार करते देखा जा सकता है. पार्टी की तरफ से इंटरव्यू लेने वाले पैनल में कुल 6 लोगों को बैठे देखा जा सकता है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी और उपमुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम भी उम्मीदवारों का इंटरव्यू लेने वाले पैनल में शामिल थे.

पार्टी ने बयान जारी कर बताया कि सोमवार को अन्नाद्रमुक संसदीय बोर्ड ने सलेम, नीलगिरि और कोयम्बटूर सहित दस संसदीय सीटों के लिए उम्मीदवारों का साक्षात्कार लिया. संसदीय बोर्ड में पार्टी के संयोजक और राज्य के उपमुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम और मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी शामिल हैं. तमिलनाडु में अन्नाद्रमुक राजग गठबंधन का नेतृत्व कर रहा है और इसके घटक दलों में भाजपा, पीएमके, डीएमडीके, पुथिया तमिझागम और पुथिया नीति काची शामिल हैं.

(इनपुट – एजेंसी)