लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर तीखा हमला बोला है. बीजेपी का जनता के बीच कोई जनाधार नहीं है. बीजेपी यूपी में दो सीटों पर सिमट जाएगी. और रही बात चौकीदारों की तो उनको बीजेपी से ज़्यादा सम्मान हमने दिया है. अखिलेश ये प्रेस कांग्रेस करते हुए कहा कि सपा किसी के भी साथ भेदभाव नहीं करती है. महागठबंधन को निषाद पार्टी और जनवादी पार्टी ने समर्थन दिया है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में सबका विकास, साथ सबका साथ का नारा जुमला है. विपक्ष और चौकीदार बीजेपी के चुनावी मुद्दे हैं.

टिकट न मिलने से मुरली मनोहर जोशी नाराज, कही ये बड़ी बात

अखिलेश यादव ने पीएम मोदी और सीएम योगी पर निशाना साधते हुए कहा कि आज संवैधानिक पदों पर बैठे लोग बीजेपी के प्रचारक बन गए हैं. सरकारी एजेंसियां भी ऐसा ही कर रही हैं. उन्होंने ट्वीट भी किया कि भाजपा के चुनावी मुद्दे विपक्ष, विपक्ष और चौकीदार बचे हैं. इसके साथ ही भाजपा के प्रचारक राज्यपाल, सरकारी एजेंसियां, मीडिया है. भाजपा की चुनावी रणनीति सोशल मीडिया, नफरत और पैसा है. इसके साथ ही उन्होंने भाजपा की पांच साल की उपलब्धि भीड़तंत्र, किसानों का अपमान और बेरोजगारी है.

सपा नेता जया प्रदा बीजेपी में शामिल, कहा- मोदी-शाह के नेतृत्व से हूं प्रभावित

इससे पहले अखिलेश ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा था, “भाजपा अपनी रैलीयों में केवल विपक्ष की बातें क्यों कर रही है? क्या भाजपा के पास पांच साल की कोई सकारात्मक उपलब्धि नहीं है? इसी कारण जनता के आक्रोश और हार के डर से भाजपा के कार्यकर्ता चुनाव प्रचार से बच रहे हैं.”