पटनाः पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं दरभंगा से चार बार सांसद रहे राजद के कद्दावर नेता अली अशरफ फातमी ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से बुधवार को इस्तीफा दे दिया. उन्होंने पार्टी के नेता तेजस्वी यादव पर असभ्य व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह भाजपा के अलावा किसी भी राष्ट्रीय पार्टी से 18 अप्रैल को मधुबनी लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल करेंगे. इस तरह अब स्पष्ट हो गया है कि उनके इस फैसले से दरभंगा की राजनीति में नया मोड़ आएगा. दरभंगा से राजद ने वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी को टिकट दिया है. Also Read - Tejashwi Yadav का नीतीश कुमार पर हमला, बताया- BJP के 'सेलेक्टेड', 'नॉमिनेटेड' और अनुकंपाई मुख्यमंत्री

वैसे एक ही पार्टी में रहने के बावजूद दोनों नेताओं के बीच हमेशा से प्रतिद्वंद्विता बनी रहती थी. लेकिन अब फातमी के दरभंगा छोड़ने के बाद सिद्दिकी के लिए राह आसान होती दिख रही है. गौरतलब है कि पूर्व भाजपा नेता कीर्ति आजाद के दरभंगा छोड़ने और अब राजद के दिग्गज अली अशरफ फातमी के पार्टी से इस्तीफा देने की घटना से मिथिलांचल इलाके में लोकसभा चुनाव का माहौल रोचक हो गया है. Also Read - Bihar News: RJD नेता श्याम रजक के 17 विधायक वाले दावे पर नीतीश कुमार का आया बयान- कही यह बात...

मधुबनी सीट से पार्टी द्वारा उम्मीदवार नहीं बनाए जाने से नाराज चल रहे फातमी ने बताया कि मंगलवार को राजद नेता तेजस्वी यादव ने उन्हें छह साल के लिए राजद से निलंबित करने की बात कही थी, जिसके बाद इस पार्टी में बने रहने का कोई औचित्य नहीं था. उन्होंने कहा, ‘इसलिए आज मैंने राजद की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया.’ फातमी ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद के छोटे बेटे तेजस्वी पर रूखे और असभ्य तरीके से बात करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी (तेजस्वी की) जितनी उम्र है, उससे अधिक समय से वह इस दल में रहे हैं. Also Read - तेजस्वी यादव का CM-PM के ऑफर पर आया बयान, बोले- नीतीश कुमार तय करें क्या करना है

फातमी ने कहा कि तेजस्वी के बड़े भाई तेजप्रताप यादव ने पार्टी में अपनी बात नहीं सुने जाने पर राजद के खिलाफ लालू-राबडी मोर्चा बना डाला और महागठबंधन तथा पार्टी उम्मीदवारों के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारे हैं. ‘लेकिन तेजस्वी ने उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की क्योंकि वह (तेजप्रताप) उनके परिवार के सदस्य हैं, जबकि मैं नहीं हूं.’ बसपा के टिकट पर आगामी 18 अप्रैल को मधुबनी से नामांकन दाखिल करने की संभावना के बारे में फातमी ने कहा कि भाजपा के अलावा जिस भी राष्ट्रीय दल से उनकी बात बन जाएगी, वह उसी के उम्मीदवार के तौर पर बृहस्पतिवार को नामांकन दाखिल करेंगे.

गौरतलब है कि राजद ने दरभंगा सीट से पूर्व मंत्री एवं पार्टी के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी को उम्मीदवार बनाया है. वहीं महागठबंधन के तहत मधुबनी सीट मुकेश सहनी नीत विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के खाते में गई है, जिसने वहां बद्रीनाथ पूर्वे को अपना उम्मीदवार बनाया है.

(इनपुट- भाषा)