टोक (असम). भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को असम में हुई एक रैली में कांग्रेस पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि तरुण गोगोई के बेटे गौरव की लोकसभा चुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए असम के पूर्व सीएम तरुण गोगोई और एआईयूडीएफ प्रमुख बदरुद्दीन अजमल के बीच गुप्त समझौता हो गया है. राज्य में अपनी दूसरी रैली को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि गोगोई और अजमल दिन में लोगों को यह दिखाने के लिए लड़ते हैं कि वे विरोधी हैं लेकिन ‘‘रात में इलू-इलू’’ करते हैं. आपको बता दें कि वर्ष 1990 के दशक की शुरुआत में आई हिन्दी फिल्म ‘सौदागर’ के एक गाने में ‘आई लव यू’ के लिए इसके छोटे रूप ‘इलू’ शब्द का इस्तेमाल किया गया था जो खूब चर्चित हुआ था. Also Read - Hyderabad Nikay Chunav 2020: रुझानों में भाजपा को स्पष्ट बहुमत, ओवैसी और टीआरएस धराशायी

मेघालय की तुरा संसदीय सीट पर दो ‘संगमा’ के बीच होगी भिड़ंत, एक पूर्व केंद्रीय तो दूसरा रहा है सीएम Also Read - GHMC Election Result 2020 Updates: हैदाराबाद नगर निकाय चुनाव के परिणाम आज, इन पार्टियों के बीच है मुख्य मुकाबला...

कांग्रेस के खिलाफ अपना हमला जारी रखते हुए शाह ने कहा, ‘‘इसका क्या मतलब है? इसका मतलब यह हुआ कि उनकी (तरुण गोगोई और बदरुद्दीन अजमल) योजना गोगोई के बेटे गौरव की जीत के लिए असम को घुसपैठियों से भरने की है.’’ उन्होंने एक जनसभा में दावा किया, ‘‘इसलिए गोगोई अजमल के पास गए थे.’’ भाजपा ने असम में कांग्रेस के खिलाफ मुहिम छेड़ते हुए आरोप लगाया है कि उसका एयूआईडीएफ से गुप्त समझौता है. अजमल की पार्टी ने घोषणा की थी कि वह असम में कुल 14 में से केवल तीन सीटों पर चुनाव लड़ेगी. गौरव कालियाबोर सीट से सांसद हैं और वह इसी सीट से फिर से चुनावी मैदान में हैं. Also Read - Farmer Protest 2020: किसान आंदोलन के दौरान जान गवाने वाले किसानों के लिए सीएम अमरिंदर सिंह ने मुआवजे का किया ऐलान

राहुल गांधी के आरोप पर ममता बनर्जी ने कसा तंज, कहा- ‘वह अभी बच्चे हैं’

कलियाबोर में हुई रैली को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने लोगों से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के पक्ष में वोट देने की अपील की. साथ ही उन्होंने मतदाताओं से यह भी कहा कि वे लोकसभा चुनाव में कांग्रेस और एआईयूडीएफ के गठजोड़ को नकार दें. इन दोनों दलों को अपवित्र गठबंधन बताते हुए अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ वोट बैंक की राजनीति करती है. कांग्रेस की इसी प्रवृत्ति की वजह से असम में विकास कार्य प्रभावित हुआ है. रैली में आई भीड़ से उत्साहित अमित शाह ने मतदाताओं से अपील की कि वे एनडीए के उम्मीदवारों के पक्ष में मतदान करें.

(इनपुट – एजेंसी)

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com