नई दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को विश्वास व्यक्त किया कि उनकी पार्टी लोकसभा चुनाव के छठे चरण के मतदान के बाद बहुमत का आंकड़ा पार कर गई है साथ ही उन्होंने विपक्षी दलों की प्रस्तावित बैठक पर यह कहते हुए चुटकी ली कि यह बैठक विपक्ष का नेता चुनने के लिए होगी. शाह ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं कि भाजपा पांचवें और छठे चरण के मतदान के बाद बहुमत का आंकड़ा पार कर गई है. सातवें चरण के बाद पार्टी 300 सीटों के पार होने वाली है.’ Also Read - रेप के आरोपों का सामना कर रहे Dhananjay Munde के खिलाफ कार्रवाई को लेकर NCP प्रमुख शरद पवार ने कही यह बात..

सातवें चरण के लिए मतदान 19 मई को होना है. किसी भी पार्टी को बहुमत के लिए 272 सीटें चाहिए. शाह ने विपक्षी नेताओं की प्रस्तावित बैठक तथा टीआरएस जैसी पार्टियों के संघीय मोर्चा बनाने के कदम का मखौल उड़ाते हुए कहा कि इस प्रकार की बैठकों से भाजपा पर असर नहीं पड़ता. उसकी सीटें घटने नहीं जा रही हैं. उन्होंने कहा कि वे विपक्ष का नेता चुनने के लिए मुलाकात करने वाले होंगे. साथ ही कहा कि इस बार के परिणामों में भी किसी पार्टी को इतनी संख्या में सीटें नहीं मिलेंगी कि वह विपक्ष का नेता चुन सके. Also Read - शिवपाल सिंह का बड़ा ऐलान, बोले- भाजपा से नहीं, सपा के साथ करेंगे गठबंधन

Also Read - सुशील मोदी का केंद्र में जाना, शाहनवाज हुसैन का बिहार आना, बीजेपी के इस कदम के क्या हैं सियासी मायने!