चांगलांग. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने पूर्वोत्तर में शांति एवं विकास सुनिश्चित किया जहां पांच साल पहले तक उग्रवादी गतिविधियां चरम पर थीं. उन्होंने कहा कि भाजपा सीमा पार से आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करने और पूर्वोत्तर में उग्रवाद खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि भगवा पार्टी के सत्ता में आने के बाद अरुणाचल प्रदेश में राजनीतिक स्थिरता कायम हुई.

शाह ने कहा कि मोदी ने अपने मंत्रियों को हर पखवाड़े पूर्वोत्तर राज्यों में जाने और क्षेत्र के लोगों की समस्याएं हल करने के निर्देश दे रखे हैं. उन्होंने दावा किया, पांच साल पहले पूर्वोत्तर में अस्थिरता थी, वहां बमुश्किल विकास हुआ था. भाजपा क्षेत्र में शांति लेकर आयी और विकास का मार्ग प्रशस्त किया.

कांग्रेस पर लगाए आरोप
उन्होंने कहा, अब पूर्वोत्तर के सभी हिस्सों में वायु तथा रेल संपर्क है. अकेले अरुणाचल प्रदेश में सरकार ने सड़कों के विकास के लिए 50,000 करोड़ रुपयों को मंजूरी दी है. शाह ने कहा कि मोरारजी देसाई आखिरी प्रधानमंत्री थे जो पूर्वोत्तर परिषद की बैठकों में शामिल हुए. उन्होंने कहा कि 40 साल बाद मोदी शिलॉन्ग में सम्मेलन में शामिल हुए.

हर जगह सरकार बनाने का किया दावा
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि अरुणाचल प्रदेश से लेकर कन्याकुमारी, असम से लेकर गुजरात तक भाजपा हर जगह सरकार बनाएगी. पार्टी की जीत का सिलसिला इस राज्य में शुरू हो गया है. उन्होंने कहा, यह पहला मौका है कि भाजपा अरुणाचल प्रदेश में सभी विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रही है. हमारी जीत का सिलसिला इस क्षेत्र में शुरू हो गया है जब हमारी पार्टी के तीन विधायक निर्विरोध चुने गए. राज्य में पार्टी के तीन उम्मीदवार आलो पूर्व, याचुली और दिरांग विधानसभा सीटों पर निर्विरोध चुन लिए गए हैं. अरुणाचल प्रदेश में 11 अप्रैल को विधानसभा और लोकसभा चुनाव एक साथ होंगे.