नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को राहुल गांधी पर उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन, केरल में वाम दल, पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस और राष्ट्रीय राजधानी में आम आदमी पार्टी को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि अगर नरेंद्र मोदी सत्ता में वापसी करते हैं तो इसके लिये कांग्रेस प्रमुख जिम्मेदार होंगे. दिल्ली में आगामी दो दिन बाद होने वाले मतदान से पहले एक साक्षात्कार में आप के राष्ट्रीय संयोजक ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. आप और कांग्रेस के बीच गठजोड़ को लेकर बातचीत में कोई फलदायी नतीजा नहीं निकलने के बाद दिल्ली में अब त्रिकोणीय मुकाबला होने वाला है.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा- केवल अमित शाह या नरेंद्र मोदी की पार्टी नहीं बन सकती भाजपा

केजरीवाल ने कहा, ‘‘कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा, केरल में वाम दल, पश्चिम बंगाल में तृणमूल, आंध्र प्रदेश में तेदेपा और दिल्ली में आप को नुकसान पहुंचा रही है… अगर नरेंद्र मोदी सत्ता में लौटे तो इसके जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ राहुल गांधी होंगे. उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा प्रतीत होता है कि कांग्रेस भाजपा के खिलाफ नहीं बल्कि विपक्षी पार्टियों के खिलाफ चुनाव लड़ रही है. कांग्रेस काम बिगाड़ने का काम कर रही है.’’ दिल्ली के मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी भी अहम क्षेत्र के लिये कुछ भी करने में ‘‘पूरी तरह से नाकाम’’ रहे हैं और इसलिए वह ‘‘नकली राष्ट्रवाद’’ का सहारा ले रहे हैं. केजरीवाल ने कहा, ‘‘मोदी जी का राष्ट्रवाद नकली है और यह देश के लिये खतरनाक है.’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘वह वोट पाने के लिये सेना का इस्तेमाल कर रहे हैं क्योंकि उनके पास दिखाने के लिये कोई काम नहीं है.’’

अन्ना हजारे के साथ मिलकर संप्रग के दूसरे कार्यकाल में 2011 और 2013 के बीच भ्रष्टाचार के खिलाफ व्यापक आंदोलन का नेतृत्व करने वाले आप के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा कि प्रधानमंत्री के तौर पर मनमोहन सिंह मोदी से हजार गुणा बेहतर थे. केजरीवाल ने कहा कि भाजपा सत्ता में नहीं लौटने वाली है. उन्होंने कहा, ‘‘हमारा एकमात्र लक्ष्य मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को सत्ता में वापसी करने से रोकना है. इन दोनों के अलावा हम लोग किसी का भी समर्थन करेंगे. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी राष्ट्रीय राजधानी में अच्छा प्रदर्शन करेगी.

यहां ‘भगवा बनाम बुर्का’ पर हो रहा चुनाव, ये है बिहार की सबसे चर्चित लोकसभा सीट

अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘‘एक महीना पहले मुझे लगता था कि लड़ाई तगड़ी होने वाली है. लेकिन पिछले 10 दिन में हालात बड़े नाटकीय ढंग से बदले हैं. मैं वैसा ही माहौल देख रहा हूं जब हमने 2015 में 67 सीटें जीती थीं. अगर हम सातों सीटें जीतते हैं तो मुझे कोई हैरानी नहीं होगी.’’ केजरीवाल ने कहा कि भाजपा मोदी के नाम पर वोट मांग रही है लेकिन आप को शिक्षा, स्वास्थ्य और जल आपूर्ति और कम बिजली दर के क्षेत्रों में किये गये अपने काम पर भरोसा है. उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मोदी जी यह नहीं कह सकते कि मैंने स्कूल बनवाये, अस्पताल बनवाये, बिजली की दर नीचे ले आया, पेय जल को सुनिश्चित किया. वह हर क्षेत्र में नाकाम हुए हैं. उन्होंने कुछ नहीं किया है.’’

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com