गुवाहाटी: चुनाव आयोग ने मतदान के दिन और मतदान से एक दिन पहले अखबारों में बिना पूर्व इजाजत के सभी राजनीतिक इश्तिहारों को प्रतिबंधित कर दिया है.
बता दें कि चुनाव के दिन राजनैतिक दलों के प्रत्याशी अखबारों सहित अन्य माध्यमों से विज्ञापन प्रकाशित कराते हैं. चुनाव आयोग का मानना है कि इससे वोटर प्रभावित हो सकते हैं.

कांग्रेस के लिए देशभर में प्रचार करेंगे नवजोत सिद्धू, राहुल गांधी ने सौंपी जिम्मेदारी

असम के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के दफ्तर से रविवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक, कोई भी राजनीतिक पार्टी या प्रत्याशी मतदान के दिन और मतदान से एक दिन पहले प्रिंट मीडिया में कोई विज्ञापन प्रकाशित नहीं करा सकता है.

लोकसभा चुनाव 2019: निजामाबाद में बनेगा इतिहास, हर बूथ पर होंगे 12 ईवीएम, वजह बने किसान

विज्ञप्ति के मुताबिक, अगर राज्य या जिला स्तर पर मीडिया प्रमाणन और निगरानी समिति से पूर्व में अनुमति ली गई है तो इश्तिहार प्रकाशित किया जा सकता है. उसमें कहा गया है कि असम के संदर्भ में, 10 और 11 अप्रैल, 17 और 18 अप्रैल, तथा 22 और 23 अप्रैल को विज्ञापन प्रकाशित कराने पर रोक रहेगी. राज्य में तीन चरणों में मतदान होना है.