नई दिल्ली/कोलकाताः बांग्लादेश के लोकप्रिय अभिनेता फिरदौस अहमद को तुरंत देश से वापस जाने का आदेश दिया गया है और उनका बिजनेस वीजा रद्द कर दिया गया है. एक अधिकारी ने मंगलवार को इस बारे में जानकारी दी. दो दिन पहले अभिनेता द्वारा पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के लिए कथित तौर पर चुनाव प्रचार करने से विवाद पैदा हो गया था. Also Read - West Bengal Election 2021: चुनाव से पहले ममता बनर्जी को एक और झटका! TMC विधायक जितेंद्र तिवारी BJP में शामिल

पश्चिम बंगाल के प्रदेश भाजपा नेता जय प्रकाश मजूमदार और शिशिर बजोरिया ने शिकायत दर्ज कराने के लिए सोमवार को राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) आरिज आफताब से मुलाकात की और तृणमूल कांग्रेस द्वारा आचार संहिता के कथित उल्लंघन पर उचित कार्रवाई की मांग की. Also Read - West Bengal Polls 2021: पश्चिम बंगाल में बसे बिहार के लोग तेजस्वी की अपील करेंगे अनसुना, विकास के लिए देंगे वोट : मनोज तिवारी

सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में दिखा है कि फिरदौस अहमद और बांग्ला कलाकार अंकुश तथा पायल ने रायगंज लोकसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार कन्हैयालाल अग्रवाल के समर्थन में रोड शो किया. केंद्र ने मंगलवार को ‘लीव इंडिया’ नोटिस जारी किया और अभिनेता को दिया गया बिजनेस वीजा रद्द कर दिया.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अहमद का नाम ‘काली सूची’ में डाल दिया है. इससे भविष्य में भारत की उनकी यात्रा में बाधा आएगी. केंद्रीय गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने दिल्ली में कहा, ‘‘बांग्लादेशी नागरिक फिरदौस अहमद द्वारा वीजा उल्लंघन के संबंध में ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन से एक रिपोर्ट मिलने के बाद गृह मंत्रालय ने उनका बिजनेस वीजा रद्द कर दिया है और उन्हें लीव इंडिया नोटिस जारी किया है. उन्हें काली सूची में डाल दिया गया है. एफआरआरओ कोलकाता को इन आदेशों की तामील करने को कहा गया है.’’ यह कदम बांग्लादेश के अभिनेता द्वारा कथित तौर पर चुनाव प्रचार करने को लेकर केंद्र के मंगलवार को कोलकाता के विदेशी क्षेत्रीय पंजीकरण अधिकारी (एफआरआरओ) से रिपोर्ट मांगने के कुछ घंटे बाद उठाया गया है.

(इनपुट-भाषा)