जयपुरः भाजपा ने राजस्थान में तीन और सीटों के लिए शुक्रवार को अपने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की. इसमें चुरू सीट से मौजूदा सांसद राहुल कस्वां को फिर से मौका दिया गया है. पार्टी ने यह घोषणा कांग्रेस द्वारा इन सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किए जाने के बाद की है. कांग्रेस के कल रात घोषित 19 प्रत्याशियों में चुरू, बांसवाड़ा और अलवर के लिए प्रत्याशियों के नाम शामिल हैं.

भाजपा ने बासंवाड़ा सीट से कनकमल कटारा को प्रत्याशी बनाया है. राज्यसभा सदस्य रहे कटारा पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष हैं और वसुंधरा राजे सरकार में मंत्री भी थे. बासंवाड़ा सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है. कांग्रेस ने इस सीट पर ताराचंद भगौरा को टिकट दी है. वहीं चुरू सीट पर भाजपा ने तमाम विरोधों को दरकिनार करते हुए मौजूदा सांसद राहुल कस्वां को प्रत्याशी बनाया है. कांग्रेस ने यहां रफीक मंडेलिया को उतारा है.

यादव और मुस्लिम बहुल अलवर सीट पर भाजपा ने महंत बालकनाथ को टिकट दी है. बालकनाथ रोहतक के मस्तनाथ मठ के महंत हैं. उनकी एक पहचान अलवर के पूर्व सांसद और महंत चांदनाथ के शिष्य की भी है. चांदनाथ के निधन के बाद से ही ऐसा माना जा रहा था कि भाजपा कभी न कभी उन्हें इस सीट से उतारेगी. यहां उनके सामने कांग्रेस के भंवर जितेंद्र सिंह हैं.

भाजपा ने 2014 में यह सीट भारी मतांतर से जीती थी लेकिन उपचुनाव में यह सीट कांग्रेस की झोली में चली गई. विधानसभा चुनाव में भाजपा का इस जिले की सीटों पर प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा. भाजपा राज्य की 25 में से 19 सीटों के लिए अपने प्रत्याशी उतार चुकी है. इनमें चार केंद्रीय मंत्रियों सहित 15 मौजूदा सांसद शामिल हैं.

राज्य में लोकसभा चुनाव दो चरणों में होंगे. पहले चरण में 29 अप्रैल को 13 सीटों व छह मई को 12 सीटों पर चुनाव होगा. तय कार्यक्रम के अनुसार टोंक सवाई माधोपुर, अजमेर, पाली, जोधपुर, बाड़मेर, जालोर, उदयपुर, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ, राजसमंद, भीलवाड़ा, कोटा और झालावाड़ बारां सीट के लिए 29 अप्रैल को मतदान होगा. राज्य की गंगानगर, बीकानेर, झुंझुनू, सीकर, जयपुर ग्रामीण, जयपुर, अलवर, भरतपुर, करौली धौलपुर, दौसा और नागौर सीट के लिए छह मई को मतदान होगा.