नई दिल्ली. भाजपा नेता गिरिराज सिंह अपने विवादित बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं. पिछले लोकसभा चुनाव में ‘पाकिस्तान भेजने’ वाला बयान हो या इस चुनाव के दौरान ‘कब्र के लिए तीन फुट जमीन’ वाली टिप्पणी, गिरिराज की जबान फिसलती ही रहती है. बिहार के बेगूसराय लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार गिरिराज सिंह को ‘कब्र में तीन फुट जमीन‘ वाले बयान को लेकर बीते मंगलवार को एक अदालत से जमानत मिली, लेकिन इसके कुछ ही घंटे बाद उन्होंने फिर से एक विवादित बयान दे दिया है. दिल्ली में भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में रैली करने पहुंचे गिरिराज ने इस बार भी धार्मिक भावना भड़काने वाला बयान ही दिया है.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com

लोकसभा चुनाव के दौरान मुसलमानों के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी करने को लेकर गिरिराज सिंह के खिलाफ आदर्श आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत दर्ज की गई थी. इस मामले में बिहार की एक अदालत ने उन्हें मंगलवार को जमानत दी. इसके कुछ ही घंटे बाद केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने विवादास्पद मलयालम फिल्म का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए कहा कि कोई भी ‘सेक्सी दुर्गा’ जैसी फिल्म बना सकता है. लेकिन किसी में भी पैगंबर मोहम्मद या फातिमा पर फिल्म बनाने का साहस नहीं है. गिरिराज सिंह ने यह बयान दक्षिणी दिल्ली से भाजपा के प्रत्याशी रमेश बिधूड़ी के पक्ष में एक जनसभा को संबोधित करते हुए दिया.

रैली में विधूड़ी ने आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ हिंदी के एक मुहावरा का इस्तेमाल भी किया और उन पर राजद्रोह के मामले में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र नेता के खिलाफ अभियोजन में रोड़ा अटकाने का आरोप लगाया. बेगूसराय से भाजपा प्रत्याशी गिरिराज सिंह ने अपने संबोधन के दौरान यह आरोप भी लगाया कि अरविंद केजरीवाल ‘टुकड़े टुकड़े गैंग’ का हिस्सा हैं. आपको बता दें कि बेगूसराय लोकसभा सीट पर सिंह के खिलाफ कन्हैया कुमार भाकपा के प्रत्याशी के रूप में चुनाव में हैं.

आप उम्मीदवार आतिशी बोलीं- गौतम गंभीर नौसिखिया हैं, उनकी पॉपुलैरिटी ही उनके खिलाफ जाएगी

इससे पहले गिरिराज सिंह ने मंगलवार को ‘कब्र के लिए तीन फुट जमीन’ वाली विवादास्पद टिप्पणी से जुड़े आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के मामले में बिहार की एक अदालत में आत्मसमर्पण किया. गिरिराज ने बीते 24 अप्रैल को बेगूसराय के जीडी कॉलेज में एक चुनावी सभा के दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की मौजूदगी में कहा था, ‘जो वंदेमातरम नहीं कह सकता, जो भारत की मातृभूमि को नमन नहीं कर सकता…, अरे गिरिराज के तो बाबा-दादा सिमरिया घाट में गंगा के किनारे मरे. उसी भूमि पर कब्र भी नहीं बनाया. तुम्हें तो तीन हाथ की जगह भी चाहिए. अगर तुम नहीं कर पाओगे, तो देश कभी माफ नहीं करेगा.’ बेगूसराय के जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीएम राहुल कुमार ने इस बयान पर स्वत: संज्ञान लेते हुए 25 अप्रैल को नगर थाने में गिरिराज के विरुद्ध आदर्श आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज कराया था.

(इनपुट – एजेंसी)