हरोआ (पश्चिम बंगाल): पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि लोकसभा चुनावों के पिछले पांच चरणों में खराब प्रदर्शन करने के बाद भाजपा और नरेंद्र मोदी वोटों के लिए बंगाल की तरफ देख रहे हैं. उन्होंने कहा कि मोदी का आत्मविश्वास डगमगा रहा है. उन्होंने लोगों से अपील की कि वे भाजपा को वोट नहीं दें.

तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार नुसरत जहां के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ममता ने यहां कहा कि भाजपा को संख्याबल कहां से मिलेगा? उत्तर प्रदेश में उसकी सीटें 73 से घटकर 13 या 17 पर आ जाएंगी. आंध्र प्रदेश, केरल, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, राजस्थान, पंजाब और ओड़िशा जैसे दूसरे राज्यों में पार्टी को एक भी सीट नहीं मिलेगी. मध्य प्रदेश में भी उसकी सीटें घटेंगी. वोटरों से भाजपा को वोट नहीं देने की अपील करते हुए ममता ने कहा कि हम भाजपा को नहीं चाहते. वोटों के जरिए पार्टी को दरवाजा दिखाएं. बंगाल में तृणमूल कांग्रेस को सभी 42 सीटों पर जीत मिलनी चाहिए, इससे केंद्र में नयी सरकार के गठन में पार्टी का थोड़ा नियंत्रण रह सकेगा.

पश्चिम बंगाल में दो लोकसभा सीटों के 2 मतदान केंद्रों पर फिर से होगा मतदान

भाजपा, कांग्रेस और माकपा एक जैसे: ममता
ममता ने आरोप लगाया कि भाजपा, कांग्रेस और माकपा एक जैसे हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोग सुबह में भाजपा, दोपहर में कांग्रेस और रात में माकपा का समर्थन करते हैं. इसलिए तीनों में किसी को वोट देना फिजूल है. तृणमूल कांग्रेस को वोट दीजिए. मोदी के खिलाफ अपना हमला जारी रखते हुए ममता ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनावों में उन्होंने काफी कुछ कहा और प्रधानमंत्री बन गए. लेकिन पिछले पांच साल में उन्होंने कौन सा काम किया. मुख्यमंत्री ने दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस एकमात्र पार्टी है जिसमें भाजपा से मुकाबला करने का ‘माद्दा’ है.

अमित शाह का दावा, राष्ट्रीय सुरक्षा, मोदी की अपील से भाजपा को मिलेगी 2014 से ज्यादा सीटें

भाजपा ने पूरे देश को डराकर रखा
उन्होंने कहा कि भाजपा ने पूरे देश को डराकर रखा है. आरबीआई, सीबीआई, आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय जैसी संस्थाओं पर कब्जा कर लिया है. उन्होंने कहा कि भोजन, आश्रय और कपड़े देने की बजाय भाजपा ने योजना आयोग को भंग कर नीति आयोग बना डाला और दिखाया कि दंगे कैसे कराए जाते हैं. इसने गोरक्षा और भीड़ हत्या शुरू कराई. ममता ने यह भी कहा कि नाथुराम गोडसे (जिसने महात्मा गांधी की हत्या की) अब भाजपा का नेता है. वे (भाजपा) अब नेताजी को भूल चुके हैं, जिन्होंने ‘जय हिंद’ का नारा दिया.

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com